आयुर्वेद एक पारंपरिक भारतीय चिकित्सा पद्धति

आयुर्वेद एक पारंपरिक भारतीय चिकित्सा पद्धति है जो 5,000 से अधिक वर्षों से प्रचलित है। यह इस विचार पर आधारित है कि शरीर में तीन दोष होते हैं: वात, पित्त और कफ। जब ये संतुलन की स्थिति में होते हैं तो ये दोष संतुलन में होते हैं। जब इनमें से एक या अधिक दोष असंतुलित हो जाते हैं, तो यह बीमारी का कारण बन सकता है।

आयुर्वेद एक पारंपरिक भारतीय चिकित्सा पद्धति

आयुर्वेद

आयुर्वेद एक पारंपरिक भारतीय चिकित्सा पद्धति है जो 5,000 से भी अधिक वर्षों से प्रचलित है। आयुर्वेद इस विचार पर आधारित है कि शरीर में मूलतः तीन दोष होते हैं: कफ़, पित्त, वात । शरीर इन तीनो  का अपना अपना क्रिया प्रणाली होता हाई । ऐसे में जब इनमे से किसी भी दोष में अनियमितता होती हाई या जब तक ये संतुलन की स्थिति में होते हैं तो सारे दोष संतुलन में होते हैं। और  इनमें से एक या अधिक दोष असंतुलित हो जाते हैं, तो यह बीमारी का कारण बन सकता है।

आयुर्वेद का 3,000 से अधिक वर्षों से अभ्यास किया जा रहा है। यह इस विश्वास पर आधारित है कि शरीर में खुद को ठीक करने की प्राकृतिक प्रवृत्ति होती है और शरीर में संतुलन बनाए रखने से बीमारी को रोका जा सकता है।संतुलन बनाए रखने के लिए ज़रूरी है कि कफ़, पित्ता और वात शरीर में संतुलित रहे ।  

आइए अब थोड़ा होम्योपैथी के विषय मे सामान्य ज्ञान प्राप्त करते हैं :-

होम्योपैथी

होम्योपैथी भी एक मान्यता प्राप्त वैकल्पिक चिकित्सा की एक प्रणाली है जो इस सिद्धांत पर आधारित है कि किसी बीमारी का इलाज उन पदार्थों की छोटी खुराक देकर किया जा सकता है जो बीमारी के समान लक्षण पैदा करते हैं। होम्योपैथ के जानकर  अधिकतर दवा से ज़्यादा बीमारी के लक्षणों पर कार्य करते हैं और तदनुसार दवा बताते हैं। मूलतः होम्योपैथ भी एक सिद्धांत पर आधारित है जिसे "बीमारी के लक्षण तदनुसार इलाज " कहा जाता है।

सोर्स: इंटेरनेट

होम्योपैथी वैकल्पिक चिकित्सा का एक रूप है, जो शरीर की प्राकृतिक उपचार प्रक्रिया को प्रोत्साहित करने के लिए पौधों के अर्क जैसे वस्तुओं से उत्पादों बना पतले आयुष का उपयोग करता है। होम्योपैथिक उपचार पौधों, खनिजों, या पशु उत्पादों से बने होते हैं और एलर्जी और अस्थमा जैसी विभिन्न स्वास्थ्य स्थितियों के इलाज के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है।

आगे आयुर्वेद से सम्बंधित जनकारियो के लिए समय समय पर इस सेक्शन से जुड़े रहें और चेक करते रहें। ये सेक्शन महत्वपूर्ण सेक्शन इस लिए भी है कि आयुर्वेद और होम्योपैथ पर विभिन्न विभिन्न विकार और उनका घरेलू निदान या सस्ता और सटीक निदान बताया जाएगा। ये सारे निदान  आयुर्वेद या होम्योपैथ के एक्सपर्ट के माध्यम या उनके पुस्तकों के माध्यम से विश्लेषित किया जाएगा ।

उम्मीद और विश्वास है की इस अचूक विषय पर आप सभी पाठकों का भरपूर प्यार और आशीर्वाद प्राप्त होगा।