Current Affairs 1st to 08th June 2022

Current Affairs Summersied points from 1st to 8th June 2022

1. जून: विश्व दुग्ध दिवस (World Milk Day)

संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन (Food and Agriculture Organization – FAO) द्वारा हर साल 1 जून को विश्व दुग्ध दिवस (World Milk Day) मनाया जाता है । यह दिन डेयरी क्षेत्र से जुड़ी गतिविधियों के प्रति जागरूकता और ध्यान आकर्षित करने के लिए मनाया जाता है।

मुख्य बिंदु

2001 में FAO द्वारा 1 जून को विश्व दुग्ध दिवस के रूप में मनाने के लिए चुना गया था। इस दिन को इसलिए चुना गया था क्योंकि कई अन्य देश उस विशेष दिन पर दुग्ध दिवस मना रहे थे।

भारत

भारत दूध का सबसे बड़ा उत्पादक है। 2011 के सर्वेक्षण के अनुसार, लगभग 70% दूध के नमूने FSSAI (भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण) द्वारा निर्धारित मानकों के अनुरूप थे।

राष्ट्रीय दुग्ध दिवस (National Milk Day)

भारत 26 नवंबर को राष्ट्रीय दुग्ध दिवस मनाता है। यह दिन 26 नवंबर को मनाया जाता है क्योंकि यह वर्गीज कुरियन (Verghese Kurien) की जयंती है। उन्हें भारत में दुग्ध क्रांति के जनक के रूप में जाना जाता है। भारत में ऑपरेशन फ्लड (Operation Flood) शुरू करना उनका विचार था।

ऑपरेशन फ्लड (Operation Flood)

ऑपरेशन फ्लड 1970 में शुरू किया गया था। इस ऑपरेशन का उद्देश्य देश में प्रति व्यक्ति दूध की उपलब्धता को दोगुना करना था। इस ऑपरेशन ने ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार पैदा करने में भी मदद की। इस ऑपरेशन की सफलता से भारत सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक बन गया।

2. RBI Annual Report 2021-22

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा जारी अपनी वार्षिक रिपोर्ट में, केंद्रीय बैंक ने इस बात पर प्रकाश डाला है कि वर्तमान वैश्विक जोखिमों के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था में रिकवरी की संभावना है।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु

  • नकली करेंसी: 2020-21 में नकली नोटों में गिरावट देखी गई लेकिन 2021-22 में नकली नोटों में 10.7 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई।
  • भविष्य की वृद्धि: RBI ने जोर देकर कहा है कि यदि आपूर्ति पक्ष की बाधाओं को दूर किया जाता है, तो भविष्य की वृद्धि सशर्त होगी, और मुद्रास्फीति को कम करने और पूंजीगत व्यय को बढ़ावा देने के लिए मौद्रिक नीति को तदनुसार कैलिब्रेट किया जाता है।
  • रूस-यूक्रेन संकट का प्रभाव: रूस-यूक्रेन संकट के कारण, विश्व अर्थव्यवस्था मंदी में है और यह पहले से ही महामारी की कई लहरों के कारण पस्त थी जिसने लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति श्रृंखला को बाधित कर दिया था। इस संकट ने दुनिया भर में मुद्रास्फीति को भी बढ़ा दिया क्योंकि धातुओं, कच्चे तेल और उर्वरकों की कीमत आसमान छू रही हैं।
  • बैंक धोखाधड़ी: इस रिपोर्ट में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि धोखाधड़ी की घटनाओं में वृद्धि के बावजूद, 2021-22 में मूल्य के मामले में बैंक धोखाधड़ी आधे से अधिक हो गई।
  • आर्थिक सुधार: भारतीय अर्थव्यवस्था 2021-22 में महामारी से उबर सकती है, भले ही उसे दूसरी और तीसरी लहर से लगातार रुकावटों का सामना करना पड़ा हो।
  • मौद्रिक नीति: RBI मुद्रास्फीति और उच्च वस्तुओं की कीमतों को ध्यान में रखते हुए एक सूक्ष्म दृष्टिकोण का पालन करेगा और देश के उत्पादक क्षेत्रों की जरूरतों का समर्थन करने के लिए पर्याप्त तरलता सुनिश्चित करने के लिए तदनुसार मौद्रिक अंशदान करेगा।
  • अधिशेष का हस्तांतरण: 2021-22 में, RBI ने पिछले वर्ष के 99,122 करोड़ रुपये की तुलना में सरकार को 30,307.45 करोड़ रुपये का अधिशेष हस्तांतरित किया।
  • मुद्रास्फीति: वर्ष 2021-22 के दौरान, बार-बार आपूर्ति के झटके लगने के कारण मुद्रास्फीति में वृद्धि हुई। रूस-यूक्रेन संकट के कारण वस्तुओं की कीमतों में तेजी आई, जिससे वैश्विक मुद्रास्फीति में वृद्धि हुई।
  • भारतीय अर्थव्यवस्था: रिपोर्ट के अनुसार, देश की अर्थव्यवस्था ठीक होने के लिए अपेक्षाकृत बेहतर स्थिति में है।

3. सरकार ने अपनी प्रमुख बीमा योजनाओं PMJJBY और PMSBY के लिए प्रीमियम बढ़ाये

सरकार ने 31 मई, 2022 को अपनी प्रमुख बीमा योजनाओं – प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY) के लिए प्रीमियम बढ़ाया ताकि उन्हें आर्थिक रूप से व्यवहार्य बनाया जा सके। PMJJBY की प्रीमियम दर को बढ़ाकर 1.25 रुपये प्रति दिन कर दिया गया है, जो सालाना 330 रुपये से बढ़कर 436 रुपये हो गई है। PMSBY के लिए वार्षिक प्रीमियम को 12 रुपये से बढ़ाकर 20 रुपये कर दिया गया है। नई प्रीमियम दरें 1 जून, 2022 से प्रभावी हैं।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY)

  • यह एक जीवन बीमा योजना है जो किसी भी कारण से मृत्यु के लिए कवरेज प्रदान करती है।
  • बचत बैंक या डाकघर में खाता रखने वाले 18-50 वर्ष के आयु वर्ग का कोई भी व्यक्ति इस योजना के तहत नामांकन के लिए पात्र है।
  • यह 330 रुपये प्रति वर्ष के प्रीमियम के मुकाबले 2 लाख रुपये का जीवन बीमा कवर प्रदान करता है।

PMJJBY की उपलब्धियां क्या हैं?

27 अप्रैल, 2022 तक PMJJBY के तहत कुल नामांकन 12 करोड़ से अधिक हो गया है और लगभग 5.76 लाख दावों के लिए 11,522 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किया गया है।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY)

  • यह दुर्घटना बीमा योजना है जो दुर्घटना के कारण मृत्यु या विकलांगता के लिए कवरेज प्रदान करती है।
  • बचत बैंक या डाकघर में खाता रखने वाला 18-70 वर्ष के आयु वर्ग का कोई भी व्यक्ति इस योजना के तहत नामांकन के लिए पात्र है।
  • यह दुर्घटना के कारण मृत्यु या विकलांगता के लिए 2 लाख रुपये का आकस्मिक मृत्यु व विकलांगता कवर प्रदान करता है। आंशिक विकलांगता के मामले में 1 लाख रुपये प्रदान किए जाते हैं।
  • इसके लिए प्रति वर्ष 12 रुपये के प्रीमियम का भुगतान किया जाना चाहिए।

PMSBY की उपलब्धियां क्या हैं?

27 अप्रैल, 2022 तक PMSBY के तहत कुल नामांकन 28 करोड़ से अधिक हो गया है, और 97,227 दावों के लिए 1,930 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किया गया है।

4. हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 1 जून, 2022

1. प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (Prime Minister’s Employment Generation Programme – PMEGP) को किस वर्ष तक बढ़ा दिया गया है?

उत्तर – 2025-26

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (Prime Minister’s Employment Generation Programme – PMEGP) को 13,554.42 करोड़ रुपये के कुल परिव्यय के साथ 2025-26 तक जारी रखने की मंजूरी दी गई है। यह योजना पांच वित्तीय वर्षों में लगभग 40 लाख व्यक्तियों के लिए स्थायी रोजगार के अवसर पैदा करेगी। इसे सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित किया जाता है।

2. हाल ही में किस संस्थान ने ‘परम अनंत’ सुपर कंप्यूटर का अनावरण किया?

उत्तर – IIT गांधीनगर

Centre for Development of Advanced Computing (C-DAC) और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गांधीनगर ने संयुक्त रूप से परम अनंत (Param Ananta) नामक एक नए सुपर कंप्यूटर का अनावरण किया है। इसे केंद्र सरकार के राष्ट्रीय सुपरकंप्यूटिंग मिशन (NSM) के दूसरे चरण में लॉन्च किया गया था। यह सुपरकंप्यूटर 838 टेराफ्लॉप्स के चरम प्रदर्शन को करने में सक्षम है।

3. किस संस्थान ने ‘Tobacco: Poisoning Our Planet’ शीर्षक से रिपोर्ट जारी की?

उत्तर – विश्व स्वास्थ्य संगठन

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने विश्व तंबाकू निषेध दिवस (World No Tobacco Day) के अवसर पर ‘Tobacco: Poisoning Our Planet’ नामक एक रिपोर्ट जारी की। इस रिपोर्ट में यह पाया गया है कि तंबाकू उद्योग आठ मिलियन मानव जीवन, 600 मिलियन पेड़, 200,000 हेक्टेयर भूमि, 22 बिलियन टन पानी के वार्षिक नुकसान के लिए जिम्मेदार है, और पृथ्वी के वायुमंडल में लगभग 84 मिलियन टन CO2 छोड़ता है।

4. 2021-22 में भारत का शीर्ष चीनी उत्पादक राज्य कौन सा है?

उत्तर – महाराष्ट्र

महाराष्ट्र ने पांच साल के अंतराल के बाद, वर्ष 2021-22 में, भारत के शीर्ष चीनी उत्पादक के रूप में अपना स्थान हासिल करने के लिए उत्तर प्रदेश को पीछे छोड़ दिया है। 2021-22 के पेराई वर्ष अक्टूबर-सितंबर के लिए राज्य का उत्पादन 138 लाख टन (lt) रहा। महाराष्ट्र के बाद उत्तर प्रदेश और कर्नाटक का स्थान है।

5. हाल ही में किस देश ने संयुक्त अरब अमीरात के साथ एक मुक्त व्यापार समझौते (FTA) पर हस्ताक्षर किए हैं?

उत्तर – इजरायल

इज़रायल ने संयुक्त अरब अमीरात (United Arab Emirates) के साथ एक मुक्त व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, यह एक अरब राज्य के साथ इसका पहला बड़ा व्यापार समझौता है। इसका उद्देश्य दो मध्य पूर्वी देशों के बीच व्यापार को बढ़ावा देना है। फरवरी में भारत के साथ इसी तरह के समझौते के बाद इजरायल के साथ यह समझौता यूएई का दूसरा द्विपक्षीय मुक्त व्यापार समझौता है।

5. करेंट अफेयर्स – 2 जून, 2022

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 2 जून, 2022 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं:

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • गुजरात के गांधीनगर में दो दिवसीय राष्ट्रीय शिक्षा मंत्रियों का सम्मेलन शुरू हुआ
  • टाइम्स हायर एजुकेशन (THE) द्वारा एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2022: शीर्ष 100 में 4 भारतीय संस्थान शामिल, IISC, बेंगलुरु 42वें स्थान पर है
  • संवैधानिक न्यायालयों के आदेश वैधानिक न्यायाधिकरणों पर प्रभावी होंगे: सर्वोच न्यायालय
  • भारत में न्यू जलपाईगुड़ी और ढाका को जोड़ने वाली मिताली एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया

आर्थिक करेंट अफेयर्स

  • कैबिनेट ने GeM (गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस) पोर्टल के माध्यम से सहकारी समितियों को खरीद की अनुमति दी

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • रूस के गज़प्रोम ने डेनमार्क, जर्मनी की कंपनियों को रूबल में भुगतान नहीं करने के कारण गैस की आपूर्ति रोक दी
  • यूक्रेन को मध्यम दूरी के रॉकेट सिस्टम भेज रहा अमेरिका
  • यूक्रेन को विमान भेदी मिसाइलें, रडार सिस्टम भेजेगा जर्मनी
  • ब्राजील: पेरनामबुको राज्य में भारी बारिश से मरने वालों की संख्या बढ़कर 100 तक पहुंची
  • 1 जून को मनाया गया विश्व दुग्ध दिवस

खेल-कूद करेंट अफेयर्स

  • जकार्ता में पुरुषों का एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट जीतने के लिए दक्षिण कोरिया ने फाइनल में मलेशिया को 2-1 से हराया: भारत को कांस्य पदक मिला

6. हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 2 जून, 2022

1. हाल के NSO अपडेट (जून 2022) के अनुसार, 2021-22 में भारत की GDP वृद्धि का अनुमान कितना है?

उत्तर – 8.7 प्रतिशत

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (National Statistical Office – NSO) ने अपने सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के विकास के अनुमान को मामूली रूप से घटाकर 8.7 प्रतिशत कर दिया  है, जो फरवरी में अनुमानित 8.9 प्रतिशत था।

2. 1 जून 2022 से क्रमशः PMJJBY और PMSBY की नई वार्षिक प्रीमियम दरें क्या हैं?

उत्तर – 436 रुपये और 20 रुपये

सरकार ने प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY) के प्रीमियम को आर्थिक रूप से व्यवहार्य बनाने के लिए बढ़ा दिया है। PMJJBY की प्रीमियम दर को बढ़ाकर 1.25 रुपये प्रति दिन कर दिया गया है, इसे सालाना 330 रुपये से बढ़ाकर 436 रुपये कर दिया गया है। PMSBY के लिए वार्षिक प्रीमियम को 12 रुपये से बढ़ाकर 20 रुपये कर दिया गया है। नई प्रीमियम दरें 1 जून, 2022 से लागू हो गई हैं।

3. भारत में 2021-22 के लिए (GDP के प्रतिशत में) दर्ज किया गया राजकोषीय घाटा (fiscal deficit) कितना है?

उत्तर – 6.71%

लेखा महानियंत्रक (CGA) ने 2021-22 के लिए राजकोषीय घाटा जारी किया, जो 6.9% के संशोधित बजट अनुमान से बढ़कर सकल घरेलू उत्पाद का 6.71 प्रतिशत हो गया है। कुल मिलाकर राजकोषीय घाटा 15,86,537 करोड़ रुपये (अनंतिम) था।

4. NARCL (National Assets Reconstruction Company Ltd) के एमडी और सीईओ के रूप में किसे नियुक्त किया गया है?

उत्तर – नटराजन सुंदर

भारतीय स्टेट बैंक के पूर्व उप-प्रबंध निदेशक नटराजन सुंदर को NARCL (National Assets Reconstruction Company Ltd) के प्रबंध निदेशक और सीईओ के रूप में नियुक्त किया गया है। NARCL सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों की संयुक्त पहल है, और यह बैंकों से खराब ऋण लेने और उनकी वसूली पर केंद्रित है। NARCL के पास 15 भारतीय बैंकों की शेयरधारिता है और केनरा बैंक प्रायोजक बैंक (sponsor bank) है।

5. ‘विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022’ की थीम क्या है?

उत्तर – Tobacco: A Threat to our Environment

धूम्रपान, तंबाकू कंपनियों और उनकी व्यावसायिक प्रथाओं के खतरों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए हर साल 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है। विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022 के लिए इस वर्ष की थीम ‘Tobacco: A Threat to our Environment’ है। तंबाकू उगाने के लिए हर साल लगभग 3.5 मिलियन हेक्टेयर भूमि नष्ट हो जाती है। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, तंबाकू के सेवन से हर साल 80 लाख से अधिक लोगों की मौत होती है।

7. महाराणा प्रताप (Maharana Pratap) की जयंती

महाराणा प्रताप सिंह (Maharana Pratap Singh)  मेवाड़ (वर्तमान राजस्थान) के 13वें राजा थे। वे भारत के सबसे यशस्वी राजाओं में से एक माने जाते हैं। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार उनका जन्म 9 मई, 1540 को हुआ था। हिंदू कैलेंडर के अनुसार ज्येष्ठ मास की तृतीया तिथि को उनका जन्म हुआ थाहै। आज उनकी जयंती मनाई जा रही है।

राणा और मुगल

अकबर मेवाड़ के माध्यम से गुजरात के लिए एक सुरक्षित मार्ग स्थापित करना चाहता था। इसलिए, उसने महाराणा प्रताप सिंह  को अन्य राजपूतों की तरह एक जागीरदार बनाने के लिए कई दूत भेजे। राणा ने मना कर दिया। इसलिए हल्दीघाटी का युद्ध लड़ा गया।

हल्दीघाटी का युद्ध (Battle of Haldighati)

हल्दीघाटी के युद्ध में महाराणा को उनकी बहादुरी के लिए जाना जाता है। यह लड़ाई 18 जून, 1576 को महाराणा और अकबर की सेनाओं के बीच लड़ी गई थी। राणा ने मुगल सेना के 2 लाख सैनिकों के खिलाफ 22,000 सैनिकों के साथ लड़ाई लड़ी। मुगलों का नेतृत्व मान सिंह ने किया था। इस युद्ध में राणा की सेना परास्त हो गईं।

पुनर्विजय

उन्होंने 1582 में 6 साल बाद मुगलों के खिलाफ लड़ाई लड़ी और जीत हासिल की। ​​मुगलों को भयानक हार का सामना करना पड़ा और इसके बाद अकबर ने मेवाड़ के खिलाफ अपने सैन्य अभियानों को रोक दिया।

इसके अलावा, जब अकबर उत्तर पश्चिमी मोर्चे पर ध्यान केंद्रित कर रहा था, तब राणा ने उदयपुर, गोगुन्दा और कुंभलगढ़ को अपने नियंत्रण में कर लिया।

8. शिमला में गरीब कल्याण सम्मेलन का आयोजन किया गया

हिमाचल प्रदेश के शिमला में ‘गरीब कल्याण सम्मेलन’ को पीएम नरेंद्र मोदी ने संबोधित किया। यह कार्यक्रम पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के आठ साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित किया गया था। यह देश भर में जिला मुख्यालयों, राज्यों की राजधानियों और कृषि विज्ञान केंद्रों में आयोजित किया गया।

मुख्य बिंदु 

इस सम्मेलन का आयोजन इसलिए किया गया है ताकि भारत भर के निर्वाचित जन प्रतिनिधि केंद्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कल्याणकारी कार्यक्रमों के बारे में अपनी प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए जनता के साथ सीधे बातचीत कर सकें। इस अवसर पर पीएम ने देश भर से पीएम-किसान योजना के विभिन्न लाभार्थियों से भी बातचीत की।

पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा दिए जाने वाले वित्तीय लाभ की 11वीं किस्त भी जारी की। 11वीं  किस्त के तहत लगभग देश भर में 10 करोड़ से अधिक लाभार्थी किसान परिवारों को 21,000 करोड़ रुपये वितरित किए गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की आने वाली पीढ़ियों के उज्ज्वल भविष्य के लिए मिलकर काम करने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला। उन्होंने जोर देकर कहा कि राष्ट्र के नागरिकों को भारत के लिए एक ऐसी पहचान बनाने की दिशा में काम करना चाहिए जो अभाव के बारे में नहीं बल्कि आधुनिकता के बारे में होगी। पीएम ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है, जिसमें रिकॉर्ड विदेशी निवेश देश में आ रहा है।

9. राजस्थान सरकार ने राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार और ग्रामीण ओलंपिक की घोषणा की

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घोषणा की है कि राज्य में विभिन्न खिलाड़ियों के लिए राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार शुरू किया जाएगा। राजस्थान सरकार राज्य में खेलों के विकास के लिए बड़े फैसले ले रही है और पदक विजेताओं को मिलने वाली प्रोत्साहन राशि समय के साथ बढ़ेगी।

राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक कब शुरू होगा?

29 अगस्त, 2022 को राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक की शुरुआत होगी। इस इवेंट में सभी उम्र के खिलाड़ी हिस्सा लेंगे। इस आयोजन का उपयोग राज्य द्वारा प्रतिभा खोज के लिए एक मंच के रूप में किया जाएगा और यह एक खेल का माहौल भी बनाएगा। ग्रामीण ओलम्पिक के विजेताओं को प्रदेश के पंचायत संवर्ग में रिक्त पदों पर भर्ती में प्राथमिकता दी जायेगी।

 ऑनलाइन पोर्टल 

मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को अनुदान राशि प्राप्त करने के लिए खेल परिषद का दौरा करने की आवश्यकता नहीं होगी। इस प्रक्रिया को आसान और सुलभ बनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा एक ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया गया है। राजस्थान में विभिन्न खेलों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले लगभग 229 खिलाड़ियों को राज्य सरकार द्वारा आउट ऑफ टर्न नीति के तहत विभिन्न सरकारी सेवाओं में नियुक्त किया गया है। पैरा ओलंपिक, ओलंपिक, राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के पदक विजेताओं के साथ द्रोणाचार्य और अर्जुन पुरस्कार विजेताओं को भी पेंशन प्रदान की जाएगी।

10. वित्त वर्ष 2021-22 में भारत का कपड़ा निर्यात रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा

वित्तीय वर्ष 2021-22 में, भारत ने अपना अब तक का सबसे अधिक परिधान और वस्त्र निर्यात दर्ज किया, जो 44.4 बिलियन डालर था। 

शीर्ष निर्यात गंतव्य 

भारत से वस्त्रों के शीर्ष निर्यात गंतव्य थे:

  1. अमेरिका: यह देश के कपड़ा उत्पादों के लिए शीर्ष निर्यात गंतव्य था। यह सभी परिधान और वस्त्र निर्यात का 27% हिस्सा है।
  2. यूरोपीय संघ: यूरोपीय संघ को निर्यात कुल का 18% हिस्सा गया।
  3. बांग्लादेश: निर्यात कुल का 12% बांग्लादेश गया।
  4. यूएई: यूएई को निर्यात कुल का 6% हिस्सा गया।

उत्पाद श्रेणियों में निर्यात मूल्य 

  • सूती वस्त्रों का निर्यात: सूती वस्त्रों का निर्यात 39% हिस्सेदारी के साथ 17.2 बिलियन अमरीकी डॉलर रहा। इस उत्पाद श्रेणी ने वित्त वर्ष 2020-21 और वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में 2021-22 के दौरान क्रमशः 54% और 67% की वृद्धि दर्ज की।
  • रेडीमेड गारमेंट्स का निर्यात: रेडीमेड गारमेंट का निर्यात 36% की हिस्सेदारी के साथ 16 अरब डॉलर रहा। इस उत्पाद श्रेणी ने वित्त वर्ष 2020-21 और वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में 2021-22 के दौरान क्रमशः 31% और 3% की वृद्धि दिखाई।
  • मानव निर्मित वस्त्रों का निर्यात: मानव निर्मित वस्त्रों का निर्यात 14% की हिस्सेदारी के साथ 6.3 अरब अमेरिकी डॉलर रहा। यह वित्त वर्ष 2020-21 और वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में 2021-22 के दौरान क्रमशः 51 प्रतिशत और 18 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है।
  • हस्तशिल्प का निर्यात: 5% की हिस्सेदारी के साथ हस्तशिल्प निर्यात 2.1 बिलियन अमरीकी डॉलर रहा। इसने FY2020-21 और FY2019-20 की तुलना में क्रमशः 2021-22 के दौरान 22 प्रतिशत और 16 प्रतिशत की वृद्धि दिखाई।

11. ‘हर घर दस्तक 2.0’ अभियान लांच किया गया

1 जून 2022 को, ‘हर घर दस्तक 2.0 अभियान’ पूरे देश में शुरू हुआ ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि सभी पात्र लाभार्थियों को पूर्ण कोविड-19 टीकाकरण प्राप्त हो। यह अभियान 12 से 14 वर्ष की आयु के लोगों के टीकाकरण और 60 वर्ष से ऊपर के लोगों के लिए एहतियाती खुराक पर विशेष ध्यान देता है। यह दो महीने तक चलने वाला घर-घर अभियान है जो 1 जून से  31 जुलाई 2022 तक चलेगा।

पहला हर घर दस्तक अभियान कब आयोजित किया गया था?

नवंबर 2021 में पहला हर घर दस्तक अभियान चलाया गया था। अब तक पूरे देश में टीकों की 193.6 करोड़ खुराक दी जा चुकी है। 15 वर्ष और उससे अधिक आयु के लगभग 96.3% लोगों ने कम से कम एक टीकाकरण खुराक प्राप्त की है और 86.3% लोगों ने दोनों खुराक प्राप्त की हैं।

यह अभियान क्यों लांच किया गया?

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड टीकाकरण की धीमी गति पर चिंता जताई। इसलिए, 20 मई को मंत्रालय ने सभी केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों को सभी ब्लॉकों, जिलों और गांवों के लिए विस्तृत योजनाओं के साथ दो महीने का हर घर दस्तक 2.0 अभियान चलाने की सलाह दी। इस अभियान का उद्देश्य डोर-टू-डोर अभियानों के माध्यम से देश भर में सभी पात्र जनसंख्या समूहों को पहली, दूसरी और एहतियाती खुराक का टीकाकरण करना है

12. 3 जून: विश्व साइकिल दिवस (World Bicycle Day)

विश्व साइकिल दिवस (World Bicycle Day) 3 जून को दैनिक जीवन में साइकिल के उपयोग को लोकप्रिय बनाने के लिए सामूहिक सवारी का आयोजन करके विश्व स्तर पर मनाया जाता है।

पृष्ठभूमि

  • 2018 में, संयुक्त राष्ट्रमहासभा (UNGA) ने 3 जून को साइकिल की “विशिष्टता, दीर्घायु और बहुमुखी प्रतिभा” के उत्सव के रूप में मनाने के लिए विश्व साइकिल दिवस के रूप में घोषित किया। मोंटगोमरी कॉलेज, मैरीलैंड, अमेरिका के प्रोफेसर लेस्ज़ेक सिबिल्स्की (Professor Leszek Sibilski) ने अपनी समाजशास्त्र कक्षा के साथ साइकिल दिवस घोषित करने और इसके सभी अच्छे गुणों को चिन्हित करने के लिए याचिका दायर की थी।
  • प्रोफेसर सिबिल्स्की और उनकी कक्षा ने तब विश्व साइकिल दिवस के लिए संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को बढ़ावा देने के लिए एक जमीनी अभियान का नेतृत्व किया, जिसने विश्व स्तर पर जागरूकता फैलाने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया और 3 जून को विश्व साइकिल दिवस के रूप में चिह्नित करने के लिए नामित किया। इस अभियान को अंततः तुर्कमेनिस्तान और 56 अन्य देशों का समर्थन प्राप्त हुआ और अंततः 2018 में इसे अमल में लाया गया, जब संयुक्त राष्ट्र ने इसे विश्व अवकाश घोषित किया।

महत्व

  • यह दिन साइकिल को परिवहन के एक किफायती, विश्वसनीय, स्वच्छ और पर्यावरण के अनुकूल टिकाऊ साधन के रूप में भी उजागर करता है क्योंकि वे किसी भी वायु-जनित प्रदूषक, धुएं, ग्रीनहाउस गैसों का उत्पादन नहीं करती हैं और यहां तक ​​कि देशों के कार्बन फुटप्रिंट को भी कम करती हैं।
  • एम्स्टर्डम में सभी यात्रियों में से 40% लोग काम पर जाने के लिए साइकिल का उपयोग करते हैं।

13. करेंट अफेयर्स – 3 जून, 2022 [मुख्य समाचार]

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 3 जून, 2022 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं:

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • छात्रों को भविष्य के लिए तैयार करने के लिए ‘पीएम श्री स्कूल’ स्थापित करेगा केंद्र: शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान
  • महाराष्ट्र सरकार ने नागरिकों को सेक्टर से जुड़ी सुविधाओं का लाभ उठाने में मदद करने के लिए ‘फेसलेस रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस (RTO)’ लॉन्च किया
  • भारत और इज़रायल ने राजनयिक संबंधों के 30 साल पूरे होने पर रक्षा सहयोग को बढ़ावा देने के लिए ‘विजन स्टेटमेंट’ अपनाया; रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उनके इजरायली समकक्ष बेनी गैंट्ज़ ने नई दिल्ली में द्विपक्षीय वार्ता की
  • तेलंगाना का स्थापना दिवस 2 जून को मनाया गया
  • विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने फ्रांसीसी समकक्ष के साथ भारत-फ्रांस रणनीतिक सहयोग और अन्य द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की
  • जाने-माने संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी का 74 साल की उम्र में निधन

अर्थव्यवस्था और कॉर्पोरेट

  • पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा नई दिल्ली में ‘स्टार्ट-अप इंडिया-2022 एक्सपो एंड कॉन्क्लेव’ आयोजित किया गया

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • डेनमार्क यूरोपीय संघ की आम रक्षा नीति में शामिल होने के लिए वोट किया

14. मई 2022 में GST संग्रह 1.4 लाख करोड़ रुपये रहा

मई 2022 के महीने में, वस्तु व सेवा कर (GST) राजस्व लगभग 1.41 लाख करोड़ रुपये था। मई 2021 की तुलना में यह 44% की वृद्धि है। मई में GST संग्रह अप्रैल 2022 की तुलना में कम था जो 1.68 लाख करोड़ रुपये था। मार्च 2022 में GST संग्रह 1.42 लाख करोड़ रुपये था, जबकि फरवरी 2022 में यह 1.33 लाख करोड़ रुपये था।

मई 2022 में एकत्रित CGST, SGST और IGST 

मई 2022 में, GST राजस्व 1,40,885 करोड़ रुपये एकत्र किया गया था जिसे इसमें विभाजित किया गया है:

  • CGST : 25,036 करोड़ रुपये
  • SGST: 32,001 करोड़ रुपये
  • IGST : 73,345 करोड़ रुपये जिसमें माल के आयात पर एकत्रित 37469 करोड़ रुपये शामिल हैं।
  • उपकर: 10,502 करोड़ रुपये जिसमें माल के आयात पर एकत्र किए गए 931 करोड़ रुपये शामिल हैं।

अप्रैल 2022 की तुलना में मई 2022 में कितना GST एकत्र किया गया?

मई 2022 में, एकत्र किया गया राजस्व मार्च 2021 में एकत्र किए गए राजस्व से 44% अधिक था जो कि 97,821 करोड़ रुपये था। यह चौथी बार है जब GST लागू होने के बाद से एक महीने का GST संग्रह 1.40 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर गया है। मार्च 2022 के बाद से यह लगातार तीसरा महीना है जब GST संग्रह 1.40 लाख करोड़ रुपये को पार कर गया है। आमतौर पर मई का कलेक्शन अप्रैल के मुकाबले हमेशा कम रहा है। अप्रैल में, उत्पन्न होने वाले ई-वे बिलों की कुल संख्या 7.4 करोड़ थी, जो मार्च 2022 में उत्पन्न ई-वे बिलों की तुलना में 4 प्रतिशत कम है जो कि 7.7 करोड़ थी।

15. आंध्र प्रदेश ACB 14400 एप्प लांच की गई

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी द्वारा “ACB 14400” नाम का एक एप्प लॉन्च किया गया है। यह एप्प राज्य भर के सरकारी कार्यालयों में भ्रष्टाचार को रोकने के लिए लॉन्च किया गया है।

मुख्य बिंदु 

इस एप्प को एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने डेवलप किया है। इस एप्प के माध्यम से लोग राज्य में किसी भी सरकारी अधिकारी के खिलाफ भ्रष्टाचार से संबंधित शिकायतें दर्ज करा सकते हैं। इससे पहले, लोग एक टोल-फ्री नंबर, 14400 के माध्यम से शिकायत दर्ज कर सकते थे, लेकिन इसमें साक्ष्य जमा करने का माध्यम नहीं था। इसलिए, ACB दर्ज मामलों को सुलझाने में सक्षम नहीं हो सका क्योंकि दोषियों को दोषी ठहराने या मामले की जांच करने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं थे। पिछली प्रक्रिया में कठिनाई को देखते हुए, सीएम ने अधिकारियों को एक ऐसा एप्प विकसित करने का निर्देश दिया, जिसके माध्यम से सभी समस्याओं का समाधान किया जा सके और राज्य के लोगों के लिए एक आसान समाधान सुनिश्चित किया जा सके। इस मोबाइल एप्लिकेशन का उपयोग करके लोग भ्रष्टाचार के किसी भी मामले की रिपोर्ट करते समय वीडियो, ऑडियो और छवियों जैसे सबूत संलग्न कर सकते हैं।

यह एप्प कैसे काम करता है?

एसीबी 14400 एप्प को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। उस मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा जिसके माध्यम से पंजीकरण किया जा रहा है, और एक बार पंजीकृत होने के बाद, एप्प उपयोग के लिए तैयार हो जाएगा। इस एप्प में दो प्रमुख विशेषताएं हैं:

  • एक तो ऑडियो, फोटो या वीडियो को लाइव रिकॉर्ड करना और तुरंत शिकायत दर्ज कराना।
  • एक अन्य तरीका वीडियो, फोटो, दस्तावेज, साथ ही अन्य सबूत भेजना और शिकायत दर्ज करना है।

16. केंद्र सरकार ने गवर्नमेंट-ई-मार्केटप्लेस (GeM) प्लेटफॉर्म में सहकारी समितियों को मंज़ूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सहकारी समितियों को इस पोर्टल पर खरीदार के रूप में पंजीकरण करने की अनुमति देने के लिए सरकारी ई-मार्केटप्लेस (GeM) के दायरे का विस्तार किया है।

मुख्य बिंदु 

इस निर्णय से देश की सहकारी समितियों को पारदर्शी और खुली प्रक्रिया के माध्यम से प्रतिस्पर्धी मूल्य प्राप्त करने में मदद मिलेगी। इस निर्णय से 8,54,000 से अधिक पंजीकृत सहकारी समितियां और उनके 270 मिलियन सदस्य लाभान्वित होंगे। सहकारी समितियों के 270 मिलियन से अधिक सदस्य हैं, इस प्रकार, GeM पोर्टल के माध्यम से खरीद से आम आदमी को आर्थिक रूप से लाभ होगा, और सहकारी समितियों की विश्वसनीयता भी बढ़ेगी। 

इस प्लेटफॉर्म पर सहकारिता कैसे जुड़ेगी?

पायलट के लिए इस पोर्टल पर सहकारिताओं की एक मान्य सूची डाली जाएगी और बाद में इसे बढ़ाया जाएगा। इस ऑनबोर्डिंग का निर्णय सहकारिता मंत्रालय द्वारा GeM के परामर्श से किया जाएगा। सहकारी समितियों के लिए GeM द्वारा एक समर्पित ऑनबोर्डिंग प्रक्रिया की पेशकश की जाएगी। अतिरिक्त उपयोगकर्ताओं का समर्थन करने के लिए तकनीकी आधारभूत संरचना भी प्रदान की जाएगी। सहकारिता मंत्रालय देश की सहकारी समितियों को सेवाओं और वस्तुओं की खरीद के लिए इस मंच का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए एडवाइजरी जारी करेगा। साथ ही, समय पर भुगतान सुनिश्चित करने और विक्रेताओं के हितों की रक्षा के लिए, भुगतान प्रणाली के तौर-तरीके GeM द्वारा सहयोग मंत्रालय के सहयोग से तय किए जाएंगे।

GeM पोर्टल क्या है?

यह पोर्टल अगस्त 2016 में सरकार द्वारा शुरू किया गया था, जो कि आम तौर पर उपयोग की जाने वाली सेवाओं और सामानों की कुशल और पारदर्शी ई-खरीद की सुविधा के उद्देश्य से एक एंड-टू-एंड ई-मार्केटप्लेस के रूप में शुरू किया गया था। GeM एक गवर्नमेंट-टू-बिजनेस प्लेटफॉर्म है।

17. THE एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2022 जारी की गई

1 जून 2022 को टाइम्स हायर एजुकेशन (THE) द्वारा एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग का नवीनतम संस्करण जारी किया गया। इस रैंकिंग के 2022 संस्करण में पूरे एशिया के 31 देशों और क्षेत्रों के 616 विश्वविद्यालय शामिल हैं। 2022 की इस रैंकिंग में भारत तीसरा सबसे अधिक प्रतिनिधित्व वाला देश है, जिसमें भारतीय 71 संस्थान शामिल हैं। 2021 में 62 भारतीय संस्थानों ने रैंकिंग सूची में जगह बनाई थी।

इस सूची में शीर्ष क्रम का विश्वविद्यालय कौन सा है?

इस सूची में शीर्ष 50 में जगह बनाने वाला एकमात्र संस्थान भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc), बैंगलोर 42वें स्थान के साथ है। JSS अकादमी ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च ने इस सूची में 65वें रैंक के साथ अपनी शुरुआत की है। इसके बाद भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) रोपड़ को 68 रैंक और IIT इंदौर को 87 रैंक के साथ है। 

भारतीय विश्वविद्यालयों की रैंक क्या है?

  • भारतीय विज्ञान संस्थान, बैंगलोर- 42
  • जेएसएस अकादमी- 65
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रोपड़- 68
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान इंदौर- 78
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गांधीनगर- 120
  • अलगप्पा विश्वविद्यालय- 122
  • थापर संस्थान – 127
  • सविता विश्वविद्यालय- 131
  • महात्मा गांधी विश्वविद्यालय- 139
  • दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी- 149
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय- 153
  • रासायनिक प्रौद्योगिकी संस्थान- 158
  • जामिया मिलिया इस्लामिया- 160
  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय- 167
  • अंतर्राष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान, हैदराबाद- 174
  • इंद्रप्रस्थ सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान- 177
  • पंजाब विश्वविद्यालय-197

इस सूची में सबसे अधिक प्रतिनिधित्व वाला देश कौन सा है?

इस सूची में जापान सबसे अधिक प्रतिनिधित्व वाला देश है, इस साल 118 संस्थानों को इस सूची में शामिल किया गया है। इस सूची में शीर्ष दो विश्वविद्यालय लगातार तीसरे वर्ष चीन से हैं। वे सिंघुआ और पेकिंग विश्वविद्यालय हैं, जो क्रमशः पहले और दूसरे स्थान पर हैं। इस सूची में, 97 मुख्य भूमि चीनी विश्वविद्यालय हैं।

18. हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 3 जून, 2022

1. पूर्ण कोविड-19 टीकाकरण (जून 2022 में) सुनिश्चित करने के लिए शुरू किए गए अभियान का नाम क्या है?

उत्तर – हर घर दस्तक अभियान 2.0

सभी पात्र लाभार्थियों का पूर्ण कोविड-19 टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए देश भर में हर घर दस्तक अभियान 2.0 का आयोजन किया गया था। 12-14 आयु वर्ग के लोगों और 60 से ऊपर के लोगों के लिए एहतियाती खुराक पर विशेष ध्यान दिया गया था। दो महीने तक चलने वाला यह अभियान 1 जून से 31 जुलाई के बीच चलेगा। पहला हर घर दस्तक अभियान नवंबर 2021 में आयोजित किया गया था। देश भर में अब तक 193.6 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं।

2. किस राज्य ने ‘जाति आधारित गणना’ नाम से जाति आधारित जनगणना कराने का निर्णय लिया है?

उत्तर – बिहार

बिहार राज्य सरकार राज्य में जाति आधारित जनगणना करने जा रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई सर्वदलीय बैठक में यह फैसला लिया गया। इस अभ्यास को ‘जाति आधारित गणना’ कहा जाएगा और राज्य सरकार जनगणना से संबंधित आंकड़ों को समाचार पत्रों में विज्ञापनों के माध्यम से प्रकाशित करेगी। इस अभ्यास का उद्देश्य वंचित लोगों के लिए विकास कार्य करना है।

3. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने किस इकाई को खरीदारों के रूप में पंजीकृत करने की अनुमति देने के लिए गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) के दायरे का विस्तार किया?

उत्तर – सहकारी समितियां

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सहकारी समितियों को खरीदारों के रूप में पंजीकरण करने की अनुमति देने के लिए सार्वजनिक खरीद पोर्टल गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) के दायरे का विस्तार किया। इससे सहकारी समितियों को एक खुली और पारदर्शी प्रक्रिया के माध्यम से प्रतिस्पर्धी मूल्य प्राप्त करने में मदद मिलेगी। 8,54,000 से अधिक पंजीकृत सहकारी समितियां और उनके 270 मिलियन सदस्य लाभान्वित होंगे।

4. किस राज्य/केंद्र शासित प्रदेश ने भ्रष्टाचार के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के लिए “ACB 14400” नामक एक मोबाइल एप्लिकेशन विकसित किया है?

उत्तर – आंध्र प्रदेश

आंध्र प्रदेश सरकार के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने भ्रष्टाचार के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के लिए “ACB 14400” नामक एक मोबाइल एप्लिकेशन विकसित किया है।

5. सभी मूल्यवर्ग के भौतिक स्टाम्प पेपरों को समाप्त करने के बाद किस राज्य/केंद्र शासित प्रदेश ने ई-स्टैम्पिंग सुविधा शुरू की?

उत्तर – पंजाब

पंजाब सरकार ने हाल ही में भौतिक स्टाम्प पेपरों को समाप्त करने के बाद ई-स्टाम्पिंग सुविधा शुरू की है। इस कदम का उद्देश्य दक्षता लाना है और इससे सालाना 35 करोड़ रुपये की बचत होने की उम्मीद है।

19. सत्येंद्र नाथ बोस (Satyendra Nath Bose) कौन थे?

गूगल ने भारतीय भौतिक विज्ञानी और गणितज्ञ सत्येंद्र नाथ बोस को बोस-आइंस्टीन कंडेनसेट (Bose-Einstein Condensate) में उनके योगदान के लिए एक रचनात्मक डूडल के साथ श्रद्धांजलि दी। इस दिन 1924 में, गणितज्ञ सत्येंद्र नाथ बोस ने अपने क्वांटम फॉर्मूलेशन अल्बर्ट आइंस्टीन को भेजे, जिन्होंने तुरंत इसे क्वांटम यांत्रिकी (quantum mechanics) में एक महत्वपूर्ण खोज के रूप में मान्यता दी

20. PFC ने लक्जमबर्ग स्टॉक एक्सचेंज पर ग्रीन बांड सूचीबद्ध किये

सरकारी स्वामित्व वाली पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन (PFC) ने घोषणा की है कि उसके 300 मिलियन यूरो के पहले ग्रीन बॉन्ड लक्जमबर्ग स्टॉक एक्सचेंज (LSE) में सूचीबद्ध किए गए हैं। आर.एस. ढिल्लों, PFC अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक (सीएमडी) ने गिफ्ट IFSC गुजरात में आयोजित लिस्टिंग समारोह के दौरान घंटी बजाई।

लिस्टिंग किस समझौते के तहत की गई है?

यह लिस्टिंग LSE और इंडिया INX के बीच हुए सहयोग समझौते के तहत की गई है। इस समझौते पर ESG स्पेस और ग्रीन बॉन्ड में पारस्परिक हित के क्षेत्रों को शामिल करने के लिए हस्ताक्षर किए गए थे। PFC ने लक्जमबर्ग स्टॉक एक्सचेंज (LSE) पर अपना पहला ग्रीन बॉन्ड सूचीबद्ध किया है, जो दुनिया का सबसे बड़ा ग्रीन बॉन्ड लिस्टिंग प्लेटफॉर्म है।

इस लिस्टिंग से PFC को कैसे मदद मिलेगी?

वर्ष 2021 में, PFC ने घोषणा की कि वह सात वर्षों के लिए 300 मिलियन यूरो के बांड जारी करेगा। इसके साथ, कंपनी पहली बार यूरोपीय बाजारों में प्रवेश करेगी। LSE पर सूचीबद्ध होने से, PFC यूरोपीय बाजार में अपनी उपस्थिति को मजबूत करने में सक्षम होगा, जिससे भविष्य के वित्तपोषण की सुविधा में मदद मिलेगी ताकि भारत सरकार द्वारा निर्धारित हरित ऊर्जा लक्ष्यों को प्राप्त किया जा सके। इस लिस्टिंग से PFC को यूरोपीय निवेशकों के बीच अपनी दृश्यता बढ़ाने का मौका मिलेगा।

पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन क्या है?

PFC एक भारतीय वित्तीय संस्थान है जो विद्युत मंत्रालय के दायरे में आता है। यह संगठन वर्ष 1986 में स्थापित किया गया था और यह भारतीय विद्युत क्षेत्र की वित्तीय रीढ़ है। PFC बिजली क्षेत्र में भारत का सबसे बड़ा गैर-बैंकिंग वित्तीय निगम (NBFC) है।

ग्रीन बॉन्ड क्या हैं?

ग्रीन बॉन्ड एक प्रकार के निश्चित आय वाले साधन हैं जिनका उपयोग पर्यावरण और जलवायु परियोजनाओं के लिए धन जुटाने के लिए किया जाता है। ये बांड आम तौर पर परिसंपत्ति से जुड़े होते हैं और जारीकर्ता इकाई की बैलेंस शीट द्वारा समर्थित होते हैं, इसलिए, वे जारीकर्ता के अन्य ऋण दायित्वों के समान क्रेडिट रेटिंग रखते हैं।

21. RPF का ऑपरेशन महिला सुरक्षा : मुख्य बिंदु

रेलवे सुरक्षा बल (Railway Protection Force – RPF) ने ऑपरेशन महिला सुरक्षा के तहत 150 महिलाओं और लड़कियों को मानव तस्करी के गिरोह के जाल में फंसने से बचाया है।

मुख्य बिंदु 

यह ऑपरेशन 3 मई को शुरू हुआ और 31 मई को समाप्त हुआ। यह महीने भर का ऑपरेशन महिलाओं और लड़कियों को मानव तस्करी से बचाने के उद्देश्य से चलाया गया था। इस ऑपरेशन में रेलवे पुलिस के जवानों की वीरतापूर्ण कार्रवाइयाँ देखी गईं, जिन्होंने लड़कियों और महिलाओं की जान बचाने के लिए अपनी जान दांव पर लगा दी। इस अभियान के दौरान महिला आरक्षित डिब्बों में अनाधिकृत रूप से यात्रा करने वाले 7000 से अधिक लोगों को RPF ने गिरफ्तार किया। साथ ही RPF ने 150 महिलाओं और लड़कियों को मानव तस्करी का शिकार होने से बचाया। रेलवे की ओर से ‘मेरी सहेली’ नाम का कार्यक्रम भी चलाया जा रहा है।

‘मेरी सहेली’ पहल क्या है?

ट्रेनों में सफर के दौरान महिलाओं को सुरक्षा मुहैया कराने के मकसद से रेलवे की ओर से यह पहल चलाई जा रही है। इस पहल का उद्देश्य उन महिला यात्रियों को अधिक सुरक्षा प्रदान करना है जो अपनी पूरी यात्रा ट्रेन से कर रही हैं। यह अखिल भारतीय पहल है।

22. पीएम श्री स्कूल (PM Shri Schools) क्या हैं?

केंद्र सरकार छात्रों को भविष्य के लिए तैयार करने के उद्देश्य से अत्याधुनिक ‘पीएम श्री स्कूल’ स्थापित करने की योजना बना रही है और ये स्कूल नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) की प्रयोगशाला के रूप में काम करेंगे। गुजरात के गांधीनगर में दो दिवसीय राष्ट्रीय शिक्षा मंत्री सम्मेलन को संबोधित कर रहे शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ‘पीएम श्री स्कूलों’ की घोषणा की। इस कार्यक्रम में 32 केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों के शिक्षा मंत्रियों ने भाग लिया जबकि तमिलनाडु ने इस बैठक का बहिष्कार किया।

मुख्य बिंदु 

शिक्षा मंत्री द्वारा भारतीय राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से पीएम श्री स्कूलों के रूप में भविष्य के बेंचमार्क मानकों को बनाने के उद्देश्य से शिक्षा पारिस्थितिकी तंत्र के बारे में अपनी प्रतिक्रिया साझा करने का आग्रह किया गया। 

पीएम श्री स्कूलों की संरचना क्या होगी?

शिक्षा मंत्री ने प्रारंभिक बचपन देखभाल और शिक्षा कार्यक्रम (Early Childhood Care and Education Programme – ECCE), शिक्षक प्रशिक्षण, वयस्क शिक्षा, स्कूली शिक्षा के साथ कौशल विकास को एकीकृत करने, और मातृभाषा में शिक्षा को प्राथमिकता देने पर बल दिया। ये वे उपाय हैं जो 21वीं सदी के वैश्विक नागरिकों को प्रशिक्षण देने के लिए आवश्यक हैं। इसके अलावा, इस बात पर प्रकाश डाला गया कि सम्मेलन में संरचित तरीके से सभी राज्य के शिक्षा मंत्रियों से अनुभव और ज्ञान साझा करने से NEP 2020 के अनुरूप देश के सीखने के परिदृश्य को ऊपर उठाने में मदद मिलेगी। पीएम श्री स्कूल देश भर में शिक्षा प्रणाली को मजबूत करने में भी मदद करेंगे। 

23. महाराष्ट्र फेसलेस क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (Maharashtra Faceless Regional Transport Offices) लांच किये गये

2 जून 2022 को, महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के नागरिकों को RTO में शारीरिक रूप से उपस्थित होने की आवश्यकता के बिना ड्राइविंग लाइसेंस आदि जैसी सुविधाओं का लाभ उठाने में मदद करने के लिए फेसलेस क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (RTOs) लॉन्च किए। इस पहल की शुरुआत परिवहन राज्य मंत्री सतेज पाटिल ने की।

फेसलेस RTOs में कौन सी सेवाएं उपलब्ध होंगी?

फेसलेस RTOs के माध्यम से छह RTO सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध होंगी। इन 6 सेवाओं में शामिल हैं:

  • डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस
  • ड्राइविंग लाइसेंस नवीनीकरण
  • लाइसेंस पर पते का परिवर्तन
  • किसी व्यक्ति की जारी RC बुक पर पते में बदलाव
  • डुप्लीकेट आरसी बुक
  • एक लाइसेंस का अनापत्ति प्रमाण पत्र।

इस कदम से नागरिकों को इन छह सेवाओं के लिए RTO का दौरा नहीं करना पड़ेगा। स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस या अंतरराष्ट्रीय ड्राइविंग लाइसेंस के सत्यापन के लिए उन्हें RTO में शारीरिक रूप से उपस्थित होने की आवश्यकता होगी। छह फेसलेस सेवाएं आधार आधारित होंगी, इसलिए धोखाधड़ी या नकल की कोई संभावना नहीं है। इन सेवाओं को तत्काल प्रभाव से उपलब्ध करा दिया गया है। यह कागज बचाने में मदद करेगा और नागरिकों को फेसलेस RTO योजना में भाग लेने के लिए अपने आधार नंबर को अपने मोबाइल फोन से जोड़ना होगा।

24. रक्षा सहयोग पर भारत-इजरायल ने विजन स्टेटमेंट पर हस्ताक्षर किये

भारत और इज़रायल ने दोनों देशों के बीच लंबे समय से चले आ रहे रक्षा सहयोग को और गहरा करने के उद्देश्य से एक ‘विजन स्टेटमेंट’ पर हस्ताक्षर किए हैं। इस बयान पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और इजरायल के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज़ के बीच हुई बैठक में हस्ताक्षर किए गए।इज़रायल के रक्षा मंत्री ने दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग में और निवेश करने की आवश्यकता पर बल दिया।

मुख्य बिंदु 

इज़रायल एक तकनीकी महाशक्ति है जबकि भारत एक औद्योगिक महाशक्ति है, इस प्रकार, दोनों देशों के बीच सहयोग व्यक्तिगत क्षमताओं के विस्तार में मदद करेगा। भारत और इज़रायल समान चुनौतियों का सामना कर रहे हैं, जिसमें आतंकवाद और सीमा सुरक्षा से लड़ना शामिल है। इसलिए, दोनों देश मिलकर काम करके अपनी क्षमताओं को बढ़ाने और दोनों देशों के आर्थिक और सुरक्षा हितों को सुनिश्चित करने में सक्षम होंगे। भविष्य की रक्षा प्रौद्योगिकियों के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए दोनों मंत्रियों के बीच एक आशय पत्र का भी आदान-प्रदान किया गया।

किन विषयों पर हुई चर्चा?

आयोजित चर्चा में निम्नलिखित विषय शामिल थे:

  • सैन्य सहयोग
  • सामरिक वैश्विक चुनौतियां
  • संयुक्त अनुसंधान और विकास
  • रक्षा औद्योगिक सहयोग

मंत्रियों ने एक सहयोग समझौते पर भी चर्चा की, जिस पर भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) और इज़रायल के रक्षा अनुसंधान एवं विकास निदेशालय के बीच हस्ताक्षर किए गए थे। यह समझौता दोनों देशों के बीच विकासात्मक और तकनीकी सहयोग के विस्तार को सक्षम बनाने में मदद करेगा। साथ ही, मंत्रियों ने इस बारे में भागीदारी पर चर्चा की:

  • सैन्य प्रशिक्षण
  • रक्षात्मक क्षमता
  • मानव रहित हवाई वाहनों (UAVs) पर केंद्रित तकनीकी सहयोग

अक्टूबर 2021 में, इजरायल और भारत ने रक्षा सहयोग को आगे बढ़ाने के लिए नए सहयोग क्षेत्रों की पहचान करने के लिए 10 साल का रोडमैप तैयार करने के उद्देश्य से एक टास्क फोर्स बनाने पर सहमति व्यक्त की थी। 27 अक्टूबर 2021 को तेल अवीव, इज़रायल में आयोजित द्विपक्षीय रक्षा सहयोग पर भारत-इज़रायल संयुक्त कार्य समूह (JWG) की 15वीं बैठक में इस पर सहमति बनी थी। यह JWG दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय रक्षा सहयोग के सभी पहलुओं का मार्गदर्शन और समीक्षा करने वाली शीर्ष संस्था है। इसके अलावा, संसाधनों के कुशल उपयोग, प्रभावी प्रौद्योगिकी प्रवाह और विभिन्न औद्योगिक क्षमताओं को साझा करने के लिए रक्षा उद्योग सहयोग पर एक उप कार्य समूह का गठन किया गया था।

25. करेंट अफेयर्स – 4 जून, 2022 [मुख्य समाचार]

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 4 जून, 2022 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं:

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • राष्ट्रीय उद्यानों, वन्यजीव अभयारण्यों में सीमा से 1 किमी का ESZ (Eco Sensitive Zone) होना चाहिए: सर्वोच्च न्यायालय
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के साथ ई-संजीवनी को एकीकृत किया गया
  • 41 उम्मीदवार राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित; शेष 16 सीटों के लिए चुनाव 10 जून को
  • उत्तराखंड के सीएम पुष्कर धामी ने चंपावत सीट से विधानसभा उपचुनाव जीता

आर्थिक करेंट अफेयर्स

  • 27 मई को समाप्त सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 3.854 अरब डॉलर बढ़कर 601.363 अरब डॉलर हो गया
  • RBI ने विदेशी देनदारियों, म्यूचुअल फंड की संपत्ति, AMCs पर वार्षिक सर्वेक्षण शुरू किया
  • सरकार ने 2021-22 के लिए 8.1% EPF ब्याज दर की पुष्टि की

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • मानव पर्यावरण पर 1972 के पहले संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन के 50 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में स्टॉकहोम+50 सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है

खेल-कूद करेंट अफेयर्स

  • 3 जून को मनाया गया विश्व साइकिल दिवस

26. हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 4 जून, 2022

1. केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा प्रस्तावित नए मॉडल स्कूलों का नाम क्या है?

उत्तर – पीएम श्री स्कूल

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने नई राष्ट्रीय शैक्षिक नीति 2020 के कार्यान्वयन पर फोकस के साथ गुजरात के गांधीनगर में राष्ट्रीय शिक्षा मंत्रियों के सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने घोषणा की कि शिक्षा मंत्रालय ‘पीएम श्री स्कूलों’ को NEP की प्रयोगशाला के रूप में स्थापित करने की प्रक्रिया में है।

2. हाल ही में किस देश ने यूरोपीय संघ की रक्षा नीति में शामिल होने के लिए मतदान किया है?

उत्तर – डेनमार्क

जनमत संग्रह कराने के बाद डेनमार्क यूरोपीय संघ की रक्षा नीति में शामिल होने जा रहा है। डेनमार्क एकमात्र यूरोपीय संघ का सदस्य है जो यूरोपीय संघ की सामान्य सुरक्षा और रक्षा नीति (Common Security and Defence Policy – CSDP) का हिस्सा नहीं है।

3. किस राज्य/केंद्र शासित प्रदेश ने फेसलेस ‘Road Transport Offices’ (RTO) लॉन्च किया है?

उत्तर – महाराष्ट्र

महाराष्ट्र सरकार ने छह Road Transport Office (RTO) सेवाओं को ऑनलाइन करने का निर्णय लिया है। जिन लोगों को अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग लाइसेंस के लिए स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस या सत्यापन की आवश्यकता है, उन्हें ही RTO में जाना होगा। महाराष्ट्र का परिवहन विभाग 80 ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करता है और अब छह और सेवाओं को इसमें शामिल किया गया है।

4. भारत ने किस देश के साथ ‘रक्षा सहयोग के लिए विजन स्टेटमेंट’ पर हस्ताक्षर किए?

उत्तर – इजरायल

भारत और इज़रायल ने भविष्य में रक्षा सहयोग को मजबूत करने के लिए एक ‘विजन स्टेटमेंट’ अपनाया। इस वक्तव्य ने दोनों देशों के बीच 30 साल के राजनयिक संबंधों को चिह्नित किया। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उनके इजरायली समकक्ष ने नई दिल्ली में द्विपक्षीय वार्ता की। दोनों नेताओं ने रक्षा सहयोग और वैश्विक और क्षेत्रीय रक्षा परिदृश्य पर चर्चा की। इज़रायल ने हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन के अनुसमर्थन के साधन पर हस्ताक्षर किए।

5. हर साल ‘विश्व साइकिल दिवस’ कब मनाया जाता है?

उत्तर – 3 जून

बुनियादी परिवहन, आवागमन, शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को मजबूत करने के लिए साइकिल चलाने की संस्कृति विकसित करने के लिए हर साल 3 जून को विश्व साइकिल दिवस मनाया जाता है। केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने विश्व साइकिल दिवस 2022 के अवसर पर दिल्ली के मेजर ध्यानचंद स्टेडियम से एक राष्ट्रव्यापी ‘फिट इंडिया फ्रीडम राइडर साइकिल रैली’ का शुभारंभ किया।

27. 5 जून: विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day)

हर साल 5 जून को विश्व स्तर पर विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day) मनाया जाता है। यह पर्यावरणीय मुद्दों और उनसे निपटने के लिए की जाने वाली कार्रवाई के बारे में विश्व स्तर पर जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।

थीम : Only One Earth

विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day)

पृष्ठभूमि : जून 1972 में मानव पर्यावरण सम्मेलन या स्टॉकहोम सम्मेलन (Stockholm Conference) के बाद , संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) ने दिसंबर 1972 में 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में नामित करने के लिए एक प्रस्ताव (A/RES/2994 (XXVII)) अपनाया। 5 जून की तारीख ऐतिहासिक स्टॉकहोम सम्मेलन के पहले दिन के साथ मेल खाती है। यह दिन पहली बार 1974 में मनाया गया था, और तब से यह 100 से अधिक देशों में व्यापक रूप से मनाया जाता है।

पर्यावरण और सतत विकास लक्ष्य

  • सतत विकास के लिए 2030 एजेंडा में हमारे ग्रह और अपने प्राकृतिक संसाधनों की स्थायी सुरक्षा सुनिश्चित करने के वैश्विक प्रयास की आवश्यकता पर बल दिया गया है।
  • सतत विकास लक्ष्य, विशेष रूप से SDG14 और SDG15, पानी के नीचे और भूमि पारिस्थितिक तंत्र की रक्षा करने पर केंद्रित हैं।

28. 6 जून : रूसी भाषा दिवस (Russian Language Day)

संयुक्त राष्ट्र हर साल 6 जून को रूसी भाषा दिवस (Russian Language Day) मनाता है। यह यूनेस्को (UNESCO) द्वारा 2010 में स्थापित किया गया था।

6 जून ही क्यों?

अलेक्जेंडर पुश्किन (Aleksandr Pushkin) के जन्म दिवस पर रूसी भाषा दिवस मनाया जाता है। वह एक रूसी कवि थे और उन्हें आधुनिक रूसी साहित्य का जनक माना जाता है।

एलेक्ज़ेंडर पुश्किन (Aleksandr Pushkin)

उन्होंने अपनी पहली कविता तब प्रकाशित की जब वह 15 वर्ष के थे। उनका जन्म मास्को में हुआ था। पुश्किन की सबसे प्रसिद्ध कविता ‘ओड टू लिबर्टी’ (Ode to Liberty) थी जिसके कारण उनका निर्वासन हुआ।

संयुक्त राष्ट्र भाषा दिवस (UN Language Days)

संयुक्त राष्ट्र भाषा दिवस सांस्कृतिक विविधता और बहुभाषावाद जश्न मनाने के लिए फरवरी 2010 में शुरू किया गया। संयुक्त राष्ट्र भाषा दिवस संगठन की छह आधिकारिक भाषाओं को बढ़ावा देते हैं। संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक भाषाएँ अंग्रेजी, अरबी, चीनी, स्पेनिश, रूसी और फ्रेंच हैं। वे निम्नलिखित तिथियों पर मनाये जाते हैं :

  • अरबी-दिसंबर 18
  • अंग्रेजी-अप्रैल 23
  • चीनी-अप्रैल 20
  • फ्रेंच-मार्च 20
  • रूस- 6 जून

29. एंजेलो मोरियोंदो (Angelo Moriondo) कौन हैं?

हाल ही में गूगल ने डूडल बनाकर दुनिया की पहली ज्ञात एस्प्रेसो मशीन के आविष्कारक एंजेलो मोरियोंदो (Angelo Moriondo) को उनकी 171वीं जयंती के अवसर पर श्रद्धांजलि दी।

मुख्य बिंदु

एंजेलो मोरियोंदो (Angelo Moriondo) का जन्म 6 जून, 1851 को ट्यूरिन, इटली में उद्यमियों के एक परिवार में हुआ था। इटली में कॉफी की लोकप्रियता के बावजूद, ग्राहकों को कॉफी बनाने के लिए काफी इंतज़ार करना पड़ता था। मोरियोंदो ने सोचा कि एक बार में कई कप कॉफी बनाने से वह तेज गति से अधिक ग्राहकों को सेवाएं दे सकेंगे, जिससे उसे अपने प्रतिस्पर्धियों पर बढ़त मिल जाएगी।

एक मैकेनिक की सीधी निगरानी के बाद उन्होंने अपने आविष्कार का निर्माण करने के लिए सूचीबद्ध किया, मोरियोंदो ने 1884 में ट्यूरिन के जनरल एक्सपो में अपनी एस्प्रेसो मशीन प्रस्तुत की, जहां इसे कांस्य पदक से सम्मानित किया गया।

एंजेलो मोरियोंदो (Angelo Moriondo)

एंजेलो मोरियोंदो (Angelo Moriondo) का जन्म 6 जून, 1851 को इटली के ट्यूरिन में हुआ था। उन्होंने वर्ष 1984 में प्रथम ज्ञात एस्प्रेसो मशीन का आविष्कार किया था। इस मशीन के लिए उन्हें पेटेंट भी प्राप्त हुआ था। उनका निधन 31 मई, 1914 को हुआ था।

30. करेंट अफेयर्स – 6 जून, 2022 [मुख्य समाचार]

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 6 जून, 2022 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं:

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • प्रधानमंत्री ने वैश्विक पहल ‘Lifestyle for Environment (LiFE) Movement’ की शुरुआत की
  • भारत ने तय समय से पहले पेट्रोल में 10% एथेनॉल ब्लेंडिंग लक्ष्य हासिल किया: पीएम मोदी
  • राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने उत्तर प्रदेश के संत कबीर नगर में संत कबीर अकादमी और अनुसंधान केंद्र का उद्घाटन किया
  • केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण और रसायन और उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया ने बिहार के रक्सौल में FSSAI की राष्ट्रीय खाद्य प्रयोगशाला का उद्घाटन किया
  • पंजाब और हिमाचल प्रदेश जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाएंगे
  • उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले में केमिकल फैक्ट्री में बॉयलर फटने से 12 की मौत

आर्थिक करेंट अफेयर्स

  • कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने तीन सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रमुख के लिए 3 नामों को मंजूरी दी: ए, मणिमेखलाई: यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में एमडी और सीईओ; अजय कुमार श्रीवास्तव: एमडी और इंडियन ओवरसीज बैंक और स्वरूप कुमार साहा: पंजाब एंड सिंध बैंक के एमडी और सीईओ

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • जिउक्वान सैटेलाइट लॉन्च सेंटर से सफल लांच के बाद तीन अंतरिक्षयात्रियों ने चीन के अंतरिक्ष स्टेशन मॉड्यूल तियानहे में प्रवेश किया
  • बांग्लादेश: चटगांव में रासायनिक कंटेनर डिपो में आग लगने से 35 की मौत, 450 से अधिक घायल
  • विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून को मनाया गया; थीम: #OnlyOneEarth

खेल-कूद करेंट अफेयर्स

  • फ्रेंच ओपन टेनिस: स्पेन के राफेल नडाल ने फाइनल में नॉर्वे के कैस्पर रूड को हराकर पुरुष एकल का खिताब जीता

31. तुर्की ने अपना आधिकारिक नाम बदलकर तुर्किये (Türkiye) किया

संयुक्त राष्ट्र में, तुर्की को अब तुर्किये (Türkiye) के नाम से जाना जाएगा। संयुक्त राष्ट्र को मई 2022 में अंकारा से एक अनुरोध प्राप्त हुआ था।

नाम को रीब्रांड करने की प्रक्रिया

नाम को रीब्रांड करने की प्रक्रिया वर्ष 2021 में शुरू हुई थी। इस नाम को तुर्किये के रूप में चुना गया था जो तुर्की राष्ट्र की संस्कृति, सभ्यता और मूल्यों को बेहतरीन तरीके से दर्शाता है और व्यक्त करता है। स्थानीय लोग अपने देश को तुर्किये के रूप में संदर्भित करते हैं, लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, इसके अंग्रेजी संस्करण “टर्की” को अपनाया गया था।

नाम बदलने का कारण

राज्य प्रसारक TRT की एक रिपोर्ट के अनुसार, 1923 में देश की आजादी के बाद ‘तुर्की/टर्की’ शब्द को अपनाया गया था। अतीत में, यूरोपीय लोगों ने ओटोमन राज्य और तुर्किये को कई नामों से संदर्भित किया है। लेकिन जो नाम सबसे ज्यादा अटका है वह है “टर्की”। इस प्रकार, ‘टर्की’ शब्द के लिए Google खोज परिणामों से देश की सरकार खुश नहीं थी। कुछ परिणामों में एक बड़ा पक्षी शामिल था जिसे क्रिसमस भोजन और उत्तरी अमेरिका में थैंक्सगिविंग के लिए परोसा जाता है। इसके अलावा, सरकार ने कैम्ब्रिज डिक्शनरी की “टर्की” की परिभाषा पर भी आपत्ति जताई, जिसका अर्थ है “एक बेवकूफ मूर्ख व्यक्ति” या “ऐसा कुछ जो बुरी तरह से विफल हो जाता है”।

रीब्रांडिंग अभियान

तुर्की की सरकार ने फिर से ब्रांडिंग अभियान शुरू कर दिया है। यह सभी निर्यात किए गए उत्पादों पर “मेड इन तुर्किये” प्रदर्शित करना शुरू कर देगा। सरकार  ने टैग लाइन के रूप में “हैलो तुर्किये” के साथ एक पर्यटन अभियान भी शुरू किया।

किन देशों ने अपने नाम बदले हैं?

कुछ और देशों ने पहले अपने नाम बदले हैं। उदाहरण के लिए :

  • हॉलैंड का नाम नीदरलैंड किया गया
  • ग्रीस के साथ राजनीतिक विवादों के कारण मैसेडोनिया ने अपना नाम उत्तरी मैसेडोनिया में बदल दिया
  • 1935 में पर्शिया का नाम बदलकर ईरान किया गया
  • सियाम ने अपना नाम बदलकर थाईलैंड कर लिया
  • रोडेशिया ने अपना नाम बदलकर जिम्बाब्वे कर लिया।

32. ABDM के साथ ई-संजीवनी (eSanjeevani) का एकीकरण किया गया

3 जून, 2022 को, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (National Health Authority – NHA) ने घोषणा की कि सरकार की ‘ई-संजीवनी’ टेलीमेडिसिन सेवा को आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के साथ एकीकृत किया गया है।

मुख्य बिंदु

  • यह एकीकरण मौजूदा ई-संजीवनी यूजर्स को आसानी से अपना आयुष्मान भारत स्वास्थ्य खाता (ABHA) बनाने में मदद करेगा।
  • यूजर्स इसका उपयोग अपने मौजूदा स्वास्थ्य रिकॉर्ड को जोड़ने और प्रबंधित करने के लिए भी कर सकेंगे।
  • यूजर्स ई-संजीवनी पर अपने स्वास्थ्य रिकॉर्ड को डॉक्टरों के साथ साझा कर सकते हैं, जो बदले में बेहतर नैदानिक ​​निर्णय लेने और देखभाल की निरंतरता सुनिश्चित करने में मदद करेगा।
  • आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन का उद्देश्य भारत में मौजूदा डिजिटल स्वास्थ्य समाधानों और हितधारकों के बीच की खाई को पाटने के लिए डिजिटल राजमार्गों का निर्माण करना है।

एकीकरण का महत्व

इससे लोग ई-संजीवनी पर अपने पहले से जुड़े स्वास्थ्य रिकॉर्ड को डॉक्टरों के साथ साझा करने में भी सक्षम होंगे। इस प्रकार, पूरी परामर्श प्रक्रिया कागज रहित हो जाएगी।

ई-संजीवनी सेवा के प्रकार

ई-संजीवनी सेवा दो प्रकारों में उपलब्ध है:

  1. eSanjeevani Ayushman Bharat-Health and Wellness Center (AB-HWC)- यह एक डॉक्टर-टू-डॉक्टर टेलीमेडिसिन सेवा है, जिसके उपयोग से स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र में जाने वाले लाभार्थी एक तृतीयक स्वास्थ्य सेवा के रूप में कार्य करने वाले हब में डॉक्टरों से वर्चुअली जुड़ सकेंगे। यह सरकार को ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ अलग-थलग पड़े समुदायों में सामान्य और विशिष्ट स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में सक्षम बनाएगा।
  2. eSanjeevani OPD – यह प्लेटफॉर्म पूरे भारत में मरीजों को उनके घरों से सीधे डॉक्टरों से जोड़कर उनकी सेवा कर रहा है।

ई-संजीवनी सेवाओं के दोनों प्रकारों को ABDM प्लेटफॉर्म के साथ एकीकृत किया गया है। इस एकीकरण के साथ, यह प्लेटफार्म अब अन्य 40 डिजिटल स्वास्थ्य एप्लीकेशंस में शामिल हो गया है जिन्होंने अपना ABDM एकीकरण पूरा कर लिया है।

33. ABDM के साथ ई-संजीवनी (eSanjeevani) का एकीकरण किया गया

3 जून, 2022 को, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (National Health Authority – NHA) ने घोषणा की कि सरकार की ‘ई-संजीवनी’ टेलीमेडिसिन सेवा को आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के साथ एकीकृत किया गया है।

मुख्य बिंदु

  • यह एकीकरण मौजूदा ई-संजीवनी यूजर्स को आसानी से अपना आयुष्मान भारत स्वास्थ्य खाता (ABHA) बनाने में मदद करेगा।
  • यूजर्स इसका उपयोग अपने मौजूदा स्वास्थ्य रिकॉर्ड को जोड़ने और प्रबंधित करने के लिए भी कर सकेंगे।
  • यूजर्स ई-संजीवनी पर अपने स्वास्थ्य रिकॉर्ड को डॉक्टरों के साथ साझा कर सकते हैं, जो बदले में बेहतर नैदानिक ​​निर्णय लेने और देखभाल की निरंतरता सुनिश्चित करने में मदद करेगा।
  • आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन का उद्देश्य भारत में मौजूदा डिजिटल स्वास्थ्य समाधानों और हितधारकों के बीच की खाई को पाटने के लिए डिजिटल राजमार्गों का निर्माण करना है।

एकीकरण का महत्व

इससे लोग ई-संजीवनी पर अपने पहले से जुड़े स्वास्थ्य रिकॉर्ड को डॉक्टरों के साथ साझा करने में भी सक्षम होंगे। इस प्रकार, पूरी परामर्श प्रक्रिया कागज रहित हो जाएगी।

ई-संजीवनी सेवा के प्रकार

ई-संजीवनी सेवा दो प्रकारों में उपलब्ध है:

  1. eSanjeevani Ayushman Bharat-Health and Wellness Center (AB-HWC)- यह एक डॉक्टर-टू-डॉक्टर टेलीमेडिसिन सेवा है, जिसके उपयोग से स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र में जाने वाले लाभार्थी एक तृतीयक स्वास्थ्य सेवा के रूप में कार्य करने वाले हब में डॉक्टरों से वर्चुअली जुड़ सकेंगे। यह सरकार को ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ अलग-थलग पड़े समुदायों में सामान्य और विशिष्ट स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में सक्षम बनाएगा।
  2. eSanjeevani OPD – यह प्लेटफॉर्म पूरे भारत में मरीजों को उनके घरों से सीधे डॉक्टरों से जोड़कर उनकी सेवा कर रहा है।

ई-संजीवनी सेवाओं के दोनों प्रकारों को ABDM प्लेटफॉर्म के साथ एकीकृत किया गया है। इस एकीकरण के साथ, यह प्लेटफार्म अब अन्य 40 डिजिटल स्वास्थ्य एप्लीकेशंस में शामिल हो गया है जिन्होंने अपना ABDM एकीकरण पूरा कर लिया है।

34. हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 5-6 जून, 2022

1. किस केंद्रीय मंत्रालय ने “Scheme for Residential Education for Students in High Schools in Targeted Areas” (SHRESTHA) योजना शुरू की?

उत्तर – सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने “Scheme for Residential Education for Students in High Schools in Targeted Areas” (SHRESTHA) शुरू की। इसका उद्देश्य सबसे गरीब अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और अवसर प्रदान करना है। इस योजना के तहत, राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (National Testing Agency – NTA) द्वारा आयोजित श्रेष्ठ के लिए राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा (National Entrance Test for SHRESHTA – NETS)) के माध्यम से प्रति वर्ष एक निश्चित संख्या में मेधावी अनुसूचित जाति के छात्रों का चयन किया जाएगा। उन्हें CBSE से संबद्ध अच्छे निजी आवासीय विद्यालयों में प्रवेश दिया जाएगा।

2. पर्यटन मंत्रालय ने किस संगठन के साथ मिलकर ‘सतत पर्यटन के लिए राष्ट्रीय रणनीति’ लांच की?

उत्तर – UNEP

पर्यटन मंत्रालय ने यूनाइटेड एनवायरनमेंट प्रोग्राम (UNEP) और रिस्पॉन्सिबल टूरिज्म सोसाइटी ऑफ इंडिया (RTSOI) के सहयोग से नई दिल्ली में ‘सतत व जिम्मेदार पर्यटन स्थलों के विकास पर राष्ट्रीय शिखर सम्मेलन’ का आयोजन किया। इस अवसर पर पर्यटन मंत्रालय ने सतत पर्यटन (sustainable tourism) के लिए राष्ट्रीय रणनीति और जिम्मेदार यात्री अभियान की शुरुआत की।

3. ‘विश्व पर्यावरण दिवस 2022’ की थीम क्या है?

उत्तर – Only One Earth

पर्यावरण की खराब स्थिति और पर्यावरण संरक्षण के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day) मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) एक नोडल एजेंसी है जो दुनिया भर में कार्यक्रमों का आयोजन और समर्थन करती है। वर्ष 2022 में 50वां विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया। स्वीडन इस साल इस इवेंट का मेजबान है और इसकी थीम ‘Only One Earth’ है। यह 1972 के स्टॉकहोम सम्मेलन का आदर्श वाक्य था।

4. किस राज्य ने गर्भवती महिलाओं के लिए ‘आंचल’ नामक एक विशेष स्वास्थ्य देखभाल योजना शुरू की?

उत्तर – राजस्थान

राजस्थान ने गर्भवती महिलाओं के लिए करौली जिले में एक विशेष स्वास्थ्य देखभाल योजना ‘आंचल’ शुरू की। इस अभियान के दौरान 13,000 से अधिक गर्भवती महिलाओं का हीमोग्लोबिन के स्तर के लिए परीक्षण किया गया और उन्हें सही दवाएं लेने की सलाह दी गई। इस अभियान के तहत यह भी सुनिश्चित किया जाता है कि जिले में सहायक नर्स मिडवाइफ और आशा कार्यकर्ता अपने-अपने क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं के साथ लगातार संपर्क में रहें।

5. 2021-22 के लिए ‘कर्मचारी’ भविष्य निधि (EPF) जमाराशियों के लिए सरकार द्वारा स्वीकृत ब्याज की नई दर क्या है?

उत्तर – 8. 1%

सरकार ने वर्ष 2021-22 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) जमा पर 8.1 प्रतिशत ब्याज दर को मंजूरी दी है, जो पिछले वर्ष प्रदान की गई 8.5 प्रतिशत थी। ब्याज की 8.1% EPF दर 1977-78 के बाद से सबसे कम है, जब यह 8% थी। EPF जमा पर ब्याज दर केंद्रीय न्यासी बोर्ड (Central Board of Trustees – CBT) द्वारा तय की गई है।

35. 7 जून : विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस (World Food Safety Day)

हर साल 7 जून को विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस (World Food Safety Day) मनाया जाता है। 7 जून, 2021 को मनाया जा रहा यह विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस तीसरा विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस है।

मुख्य बिंदु

विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस 2019 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा शुरू किया गया था। यह दिन जिनेवा सम्मेलन (Geneva Conference) और 2019 में अदीस अबाबा सम्मेलन (Addis Ababa Conference) द्वारा “खाद्य सुरक्षा का भविष्य” पर किए गए आह्वान को सुदृढ़ करने के लिए मनाया जाता है।

अदीस अबाबा सम्मेलन (Addis Ababa Conference)

अदीस अबाबा सम्मेलन खाद्य सुरक्षा पर पहला अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन था। इस सम्मेलन ने सतत विकास लक्ष्यों तक पहुंचने के लिए प्राथमिकताओं पर चर्चा की और पोषण पर संयुक्त राष्ट्र दशक की कार्रवाई का समर्थन भी किया।

पोषण पर कार्रवाई का संयुक्त राष्ट्र दशक (UN Decade of Action on Nutrition)

पोषण पर कार्रवाई का संयुक्त राष्ट्र दशक 2016-25 के लिए संयुक्त राष्ट्र की एक प्रतिबद्धता है। इस दशक को विश्व संगठन से बढ़ी हुई पोषण क्रियाएं प्राप्त होंगी।

36. करेंट अफेयर्स – 7 जून, 2022 [मुख्य समाचार]

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 7 जून, 2022 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं:

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • रक्षा मंत्रालय ने 76,000 करोड़ रुपये के सैन्य उपकरणों, प्लेटफार्मों की खरीद को मंजूरी दी
  • 4,000 किमी रेंज की परमाणु-सक्षम अग्नि- IV मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया

आर्थिक करेंट अफेयर्स

  • प्रधानमंत्री ने आजादी का अमृत महोत्सव डिजाइन के साथ सिक्कों की नई श्रृंखला लॉन्च की
  • पीएम ने ‘जन समर्थ पोर्टल’ लॉन्च किया
  • भारतीय रेलवे ने IRCTC की वेबसाइट और एप्प के जरिए टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग की सीमा बढ़ाई; अधिकतम 12 टिकट एक यूजर आईडी द्वारा बुक किए जा सकते हैं जो आधार से लिंक नहीं है
  • IIT, मद्रास ने अभिनव सोच को प्रोत्साहित करने के लिए गणित के माध्यम से “Out of the Box Thinking” पर मुफ्त पाठ्यक्रम शुरू किया

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • 14-दिवसीय बहुराष्ट्रीय शांति अभ्यास खान क्वेस्ट 2022- मंगोलिया में शुरू हुआ
  • NATO ने फिनलैंड, स्वीडन, 14 अन्य देशों के साथ बाल्टिक सागर नौसैनिक अभ्यास ‘BALTOPS’ आयोजित किया

खेल-कूद करेंट अफेयर्स

  • अलमाटी, कजाकिस्तान में बोलत तुर्लिखानोव कप कुश्ती: अमन सहरावत ने पुरुषों के 57 किग्रा में स्वर्ण पदक जीता

37. करेंट अफेयर्स – 7 जून, 2022 [मुख्य समाचार]

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 7 जून, 2022 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं:

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • रक्षा मंत्रालय ने 76,000 करोड़ रुपये के सैन्य उपकरणों, प्लेटफार्मों की खरीद को मंजूरी दी
  • 4,000 किमी रेंज की परमाणु-सक्षम अग्नि- IV मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया

आर्थिक करेंट अफेयर्स

  • प्रधानमंत्री ने आजादी का अमृत महोत्सव डिजाइन के साथ सिक्कों की नई श्रृंखला लॉन्च की
  • पीएम ने ‘जन समर्थ पोर्टल’ लॉन्च किया
  • भारतीय रेलवे ने IRCTC की वेबसाइट और एप्प के जरिए टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग की सीमा बढ़ाई; अधिकतम 12 टिकट एक यूजर आईडी द्वारा बुक किए जा सकते हैं जो आधार से लिंक नहीं है
  • IIT, मद्रास ने अभिनव सोच को प्रोत्साहित करने के लिए गणित के माध्यम से “Out of the Box Thinking” पर मुफ्त पाठ्यक्रम शुरू किया

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • 14-दिवसीय बहुराष्ट्रीय शांति अभ्यास खान क्वेस्ट 2022- मंगोलिया में शुरू हुआ
  • NATO ने फिनलैंड, स्वीडन, 14 अन्य देशों के साथ बाल्टिक सागर नौसैनिक अभ्यास ‘BALTOPS’ आयोजित किया

खेल-कूद करेंट अफेयर्स

  • अलमाटी, कजाकिस्तान में बोलत तुर्लिखानोव कप कुश्ती: अमन सहरावत ने पुरुषों के 57 किग्रा में स्वर्ण पदक जीता

38. स्टॉकहोम+50 सम्मेलन (Stockholm+50 Conference) का आयोजन किया गया

4 जून, 2022 को दुनिया भर के वैज्ञानिक, शोधकर्ता और कार्यकर्ता स्टॉकहोम में एकत्रित हुए। उन्होंने जीवाश्म ईंधन को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने के साथ-साथ विकासशील देशों को स्वच्छ ऊर्जा के लिए उनके परिवर्तन में समर्थन देने पर चर्चा की।

मुख्य बिंदु

  • पहली बैठक के 50 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में यह सम्मेलन आयोजित किया गया था। पहली बैठक तब हुई जब दुनिया ने शुरू में इस विचार का सामना किया कि विकास को पर्यावरण की दृष्टि से टिकाऊ होना चाहिए।
  • इसमें वैज्ञानिक, शोधकर्ता और कार्यकर्ता शामिल थे।

नागरिकों को पत्र

हाल ही में, कई जलवायु, पर्यावरण और सामाजिक वैज्ञानिकों ने “पृथ्वी के साथी नागरिकों को” एक पत्र लिखा, जो जर्नल नेचर में प्रकाशित हुआ था। यह मेंटन मैसेज के समान है, जिस पर 1972 के स्टॉकहोम सम्मेलन से पहले 2,200 वैज्ञानिकों ने हस्ताक्षर किए थे। इसने आसन्न पर्यावरणीय संकट के लिए लोगों के ध्यान का आह्वान किया। 

स्टॉकहोम+50 क्या है?

यह एक अंतर्राष्ट्रीय बैठक है, जिसका नेतृत्व संयुक्त राष्ट्र महासभा करता है। यह एक वैश्विक संधि है, जिसका उद्देश्य मानव स्वास्थ्य और पर्यावरण को लगातार कार्बनिक प्रदूषकों के प्रभाव से बचाना है। यह हाल ही में जून 2022 में मानव पर्यावरण पर 1972 के संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन के 50 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित किया गया था, जिसने पहली बार पर्यावरण को एक वैश्विक मुद्दा बनाया था।

39. श्रेष्ठ योजना (SHRESHTHA Scheme) क्या है?

श्रेष्ठ योजना (SHRESHTHA Scheme – Scheme for Residential Education for Students in High Schools in Targeted Areas) केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेंद्र कुमार द्वारा 3 जून, 2022 को शुरू की गई थी।

श्रेष्ठ योजना (SHRESHTHA Scheme)

  • यह योजना अनुसूचित जातियों के लिए शुरू की गई है।
  • यह योजना गरीब और मेधावी अनुसूचित जाति के छात्रों को एक समान अवसर प्रदान करेगी।
  • यह अनुसूचित जाति वर्ग के 3,000 छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू की गई है।
  • यह योजना अनुसूचित जाति समुदायों के मेधावी छात्रों के लिए कक्षा 9वीं से कक्षा 12वीं के मेधावी अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए उच्च गुणवत्ता वाली मुफ्त आवासीय शिक्षा की कल्पना करती है।

इस योजना के तहत किसे कवर किया जाएगा?

यह योजना उन छात्रों को कवर करेगी जिनके माता-पिता की वार्षिक आय 2.5 लाख रुपये प्रति वर्ष तक है। 

छात्रों का चयन

लगभग 3000 छात्रों का चयन SHRESHTA (NETS) के लिए राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा। उन्हें 12वीं तक शिक्षा पूरी करने के लिए कक्षा 9वीं और 11वीं में सर्वश्रेष्ठ निजी आवासीय-CBSE संबद्ध स्कूल में प्रवेश दिया जाएगा। सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले निजी आवासीय-CBSE से संबद्ध स्कूलों का चयन विशिष्ट मानकों के आधार पर किया जाएगा। स्कूल शुल्क और छात्रावास शुल्क के साथ-साथ भोजन शुल्क का पूरा खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। इन सभी खर्चों को कवर करने के लिए निर्धारित अधिकतम सीमाएँ हैं:

  • 9वीं कक्षा: 1,00,000 रुपये प्रति छात्र
  • 10वीं कक्षा: 1,10,000 रुपये प्रति छात्र
  • 11वीं कक्षा: 1,25,000 रुपये प्रति छात्र और
  • 12वीं कक्षा: प्रति छात्र 1,35,000 रुपये प्रति वर्ष

ब्रिज कोर्स का प्रावधान

इस योजना की एक अन्य विशेषता “ब्रिज कोर्स के लिए प्रावधान” है। इससे छात्रों को नए स्कूल के माहौल के अनुकूल होने में मदद मिलेगी। यह कोर्स राज्य के स्कूलों और ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को 3 महीने के लिए प्रदान किया जाएगा।

40. INS निशंक और INS अक्षय को डीकमीशन किया गया

भारत को 32 साल की शानदार सेवा प्रदान करने के बाद 3 जून, 2022 को भारतीय नौसेना के जहाजों निशंक और अक्षय को सेवामुक्त कर दिया गया।

मुख्य बिंदु 

  • मुंबई में नौसेना डॉकयार्ड में डीकमिशनिंग कार्यक्रम आयोजित किया गया था।
  • पारंपरिक समारोह में राष्ट्रीय ध्वज, नौसेना का पताका और दोनों जहाजों के डिमोशनिंग पेनेंट को सूर्यास्त के समय अंतिम बार उतारा गया।

INS निशंक को 12 सितंबर, 1989 को कमीशन किया गया था। दूसरी ओर, INS अक्षय को 10 दिसंबर, 1990 को पोटी, जॉर्जिया में कमीशन किया गया था। INS निशंक 22 मिसाइल वेसल स्क्वाड्रन का हिस्सा था, जबकि INS अक्षय 23 पेट्रोल पोत स्क्वाड्रन का हिस्सा था, जो फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग, महाराष्ट्र के नौसेना क्षेत्र के संचालन नियंत्रण में था। वे 32 से अधिक वर्षों से सेवा में थे। इस दौरान उन्होंने कारगिल युद्ध के दौरान ऑपरेशन तलवार और 2001 में ऑपरेशन पराक्रम सहित कई नौसैनिक अभियानों में भाग लिया।

INS निशंक (K43)

INS निशंक एक वीर श्रेणी का कार्वेट है, जिसकी लंबाई 56 मीटर (184 फीट) है। यह 32 समुद्री मील (59 किमी/घंटा) की गति और 1,650 मील (2,660 किमी) की सीमा तक पहुंच सकता है।

वीर वर्ग कार्वेट

वीर वर्ग के कार्वेट सोवियत टारेंटुल वर्ग का एक अनुकूलित भारतीय संस्करण है। 

INS अक्षय

INS अक्षय भारतीय नौसेना के निम्नलिखित जहाजों को संदर्भित करता है:

  • INS अक्षय (P3136)- यह एक अजय-श्रेणी का गश्ती पोत है जो 1962 में बनकर तैयार हुआ था। 1973 में, इसे बांग्लादेश को दिया गया था जहां उसने बीएनएस पद्मा के रूप में कार्य किया।
  • INS अक्षय (P35) – यह 1990 में कमीशन किया गया एक अभय-श्रेणी का कार्वेट है।

भारतीय नौसेना 

भारतीय नौसेना, भारतीय सशस्त्र बलों की नौसेना शाखा है। भारत के राष्ट्रपति भारतीय नौसेना के सर्वोच्च कमांडर के रूप में कार्य करते हैं। नौसेना की कमान फोर-स्टार एडमिरल, चीफ ऑफ नेवल स्टाफ के पास होती है। भारतीय नौसेना फारस की खाड़ी क्षेत्र और हॉर्न ऑफ अफ्रीका में मलक्का जलडमरूमध्य तक काम करती है। 

41. NCC ने ‘पुनीत सागर अभियान’ (Puneet Sagar Abhiyan) का आयोजन किया

NCC ने 30 मई, 2022 को ‘पुनीत सागर अभियान’ शुरू किया। यह 5 जून, 2022 तक जारी रहा, जो विश्व पर्यावरण दिवस का प्रतीक है।

मुख्य बिंदु

  • इस अभियान में 10 राज्यों और 4 केंद्र शासित प्रदेशों के लगभग 74,000 कैडेटों ने भाग लिया।
  • NCC कैडेटों के साथ NCC के पूर्व छात्रों, स्थानीय लोगों और पूरे भारत में कई स्थानों पर पर्यटकों ने भी इसमें हिस्सा लिया।
  • इस अभियान के दौरान एकत्र किए गए कचरे को सरकार/निजी एजेंसियों के सहयोग से पर्यावरण के अनुकूल तरीके से निपटाया गया।
  • इस अभियान के दौरान विभिन्न स्थानों पर ड्राइंग, निबंध लेखन, पोस्टर मेकिंग, लेख लेखन, कविता, वाद-विवाद आदि का भी आयोजन किया गया।

यह अभियान क्यों शुरू किया गया था?

पुनीत सागर अभियान NCC द्वारा समुद्र तटों और नदियों और झीलों सहित अन्य जल निकायों को प्लास्टिक और अन्य कचरे को हटाकर साफ करने के लिए शुरू किया गया था। यह अभियान समुद्र तटों और नदी के किनारों को साफ रखने के महत्व के बारे में स्थानीय आबादी के बीच जागरूकता बढ़ाने का प्रयास करता है। यह स्थानीय लोगों को शिक्षित करने और ‘स्वच्छ भारत’ के बारे में जागरूक करने का प्रयास करता है।

यह अभियान कब शुरू किया गया था?

समुद्र तटों को प्लास्टिक और अन्य अपशिष्ट पदार्थों से मुक्त रखने के लिए राष्ट्रीय कैडेट कोर द्वारा 1 दिसंबर, 2021 को अभियान शुरू किया गया था।

राष्ट्रीय कैडेट कोर (National Cadet Corps – NCC)

NCC भारतीय सशस्त्र बलों की युवा शाखा है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है। यह त्रि-सेवा संगठन के रूप में स्वैच्छिक आधार पर स्कूलों और कॉलेजों के छात्रों के लिए खुला है। इसमें थल सेना, नौसेना और वायु विंग शामिल हैं। यह विंग युवाओं को अनुशासित और देशभक्त नागरिक बनाने में कार्यरत्त है। इसके कैंप में कैडेटों को छोटे हथियारों और ड्रिल में बुनियादी सैन्य प्रशिक्षण दिया जाता है।

NCC का प्रतीक

एनसीसी के प्रतीक चिन्ह में 3 रंग शामिल हैं, लाल, गहरा नीला और हल्का नीला। लाल रंग भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व करता है, गहरा नीला भारतीय नौसेना का प्रतिनिधित्व करता है जबकि हल्का नीला भारतीय वायु सेना का प्रतिनिधित्व करता है। इस पर 17 कमल भारत की 17 निर्देशिकाओं को दर्शाते हैं।

42. चंडीगढ़ में IAF हेरिटेज सेंटर बनाया जाएगा

चंडीगढ़ में “चंडीगढ़ IAF हेरिटेज सेंटर” स्थापित करने का निर्णय लिया गया है।

चंडीगढ़ IAF हेरिटेज सेंटर

कई युद्धों और समग्र कामकाज में भारतीय वायु सेना की भूमिका को प्रदर्शित करने के लिए चंडीगढ़ IAF (भारतीय वायु सेना) विरासत केंद्र की स्थापना की जाएगी। इसे वायुसेना और चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा संयुक्त रूप से स्थापित किया जाएगा। इस उद्देश्य के लिए केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ और भारतीय वायुसेना के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। यह भारत का पहला ऐसा केंद्र होगा। इसे चंडीगढ़ के सेक्टर 18 में तत्कालीन प्रिंटिंग प्रेस में स्थापित किया जा रहा है।

विरासत केंद्र का उद्देश्य

भारतीय वायुसेना के विभिन्न पहलुओं को उजागर करने के लिए चंडीगढ़ हेरिटेज सेंटर में आर्टिफैक्ट, सिमुलेटर और इंटरेक्टिव बोर्ड शामिल होंगे। यह युद्ध के अलावा मानवीय सहायता और आपदा राहत के लिए प्रदान की गई सहायता में वायुसेना द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका को प्रदर्शित करेगा। इसमें विंटेज विमान भी होंगे।

इसे कब पूरा किया जाएगा?

केंद्र ने अक्टूबर 2022 तक परियोजना को पूरा करने की योजना बनाई है। इस हेरिटेज सेंटर की देखरेख चंडीगढ़ प्रशासन करेगा। वहीं, भारतीय वायुसेना हथियार और अन्य उपकरण लगाएगी।

43. हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 7 जून, 2022

1. क्रेडिट लिंक्ड सरकारी योजनाओं के लिए शुरू किए गए नए राष्ट्रीय पोर्टल का नाम क्या है?

उत्तर – जन समर्थ पोर्टल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘जन समर्थ पोर्टल’ नाम से क्रेडिट-लिंक्ड सरकारी योजनाओं के लिए राष्ट्रीय पोर्टल लॉन्च किया। जन समर्थ पोर्टल लाभार्थियों को ऋणदाताओं से जोड़ने के लिए सरकारी ऋण योजनाओं को जोड़ने वाला वन-स्टॉप डिजिटल पोर्टल है। यह सरल डिजिटल प्रक्रियाओं के माध्यम से लोगों को सही सरकारी लाभ प्रदान करता है।

2. किस देश ने अपने तियांगोंग अंतरिक्ष स्टेशन (Tiangong Space Station) के लिए अपना मानवयुक्त मिशन लॉन्च किया?

उत्तर – चीन

चीन ने अपने तीसरे मानवयुक्त मिशन को अपने नए अंतरिक्ष स्टेशन के लिए सफलतापूर्वक लॉन्च किया, जिसमें तीन अंतरिक्ष यात्रियों को छह महीने तक निर्माण कार्य जारी रखने के लिए भेजा गया है। चीन की मानवयुक्त अंतरिक्ष एजेंसी (CMSA) ने घोषणा की कि शेनझोउ-14 अंतरिक्ष यान को लॉन्ग मार्च 2F रॉकेट द्वारा लॉन्च किया गया था।

3. फ्रेंच ओपन 2022 पुरुष एकल खिताब का विजेता कौन है?

उत्तर – राफेल नडाल

राफेल नडाल ने कैस्पर रूड को हराकर अपना 14वां फ्रेंच ओपन पुरुष एकल खिताब जीतने के लिए फाइनल मैच जीता। इस जीत के साथ, नडाल ने रोलैंड गैरोस में अपनी 14वीं चैंपियनशिप और कुल मिलाकर 22वां ग्रैंड स्लैम खिताब अपने नाम किया। वह प्रतिद्वंद्वियों रोजर फेडरर और नोवाक जोकोविच से दो खिताब आगे हैं। फ्रेंच ओपन एक ग्रैंड स्लैम टेनिस टूर्नामेंट है जो पेरिस, फ्रांस में स्टेड रोलैंड गैरोस में आउटडोर क्ले कोर्ट पर खेला जाता है।

4. किस देश ने वैश्विक पहल ‘Lifestyle for the Environment (LiFE) Movement’ लांच किया है?

उत्तर – भारत

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक वैश्विक पहल ‘Lifestyle for the Environment (LiFE) Movement’ की शुरुआत की। LiFE का विचार मूल रूप से प्रधानमंत्री द्वारा ग्लासगो में COP-26 पार्टियों के 26वें संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन के दौरान पेश किया गया था। पर्यावरण के प्रति जागरूक जीवन शैली अपनाने के लिए विचारों और सुझावों को आमंत्रित करते हुए ‘LiFE ग्लोबल कॉल फॉर पेपर्स’ की शुरुआत की गई थी।

5. ‘Ex SAMPRITI-X’ भारत और किस देश के बीच एक संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास है?

उत्तर – बांग्लादेश

भारत और बांग्लादेश के बीच एक संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास ‘Ex SAMPRITI-X’, द्विपक्षीय रक्षा सहयोग के हिस्से के रूप में बांग्लादेश में शुरू हुआ। इस सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास का उद्देश्य दोनों सेनाओं के बीच अंतःक्रियाशीलता और सहयोग की विशेषताओं को मजबूत करना है। भारतीय दल का प्रतिनिधित्व डोगरा रेजिमेंट की एक बटालियन द्वारा किया जा रहा है।

44. 8 जून: विश्व महासागर दिवस (World Oceans Day) 2022

विश्व 8 जून, 2021 को ‘Revitalisation: Collective Action for the Ocean’ की थीम के तहत विश्व महासागर दिवस (World Oceans Day) मनाया जा रहा है।

विश्व महासागर दिवस (World Oceans Day)

यह दिन प्रतिवर्ष 8 जून को मनाया जाता है। यह दिन दुनिया भर की सरकारों को लोगों को आर्थिक गतिविधियों और समुद्र पर मानवीय कार्यों के प्रभाव के बारे में सूचित करने का अवसर प्रदान करता है।

महत्व

महासागर लोगों के दैनिक जीवन में एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं। यह जीवमंडल (biosphere) का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है क्योंकि यह हमें पानी प्रदान करता है जो हमारे दैनिक जीवन का एक अभिन्न अंग है। हालाँकि, महासागर वर्षों से मानव निर्मित विनाश का खामियाजा भुगत रहे हैं। समुद्र में औद्योगिक कचरा और अवांछित कचरा उसके प्राकृतिक संसाधनों से खराब और अस्थिर कर रहा है। इस प्रकार, महासागरों को बचाना महत्वपूर्ण हो जाता है और विश्व महासागर दिवस इसके लिए प्रतिबद्ध है।

पृष्ठभूमि

विश्व महासागर दिवस पहली बार 1992 में रियो डी जनेरियो में पृथ्वी शिखर सम्मेलन (Earth Summit) के दौरान सुझाया गया था। इसके बाद, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 5 दिसंबर, 2008 को इस दिन को नामित करने का प्रस्ताव पारित किया।

अंतर्राष्ट्रीय समुद्री संगठन (International Marine Organization)

अंतर्राष्ट्रीय समुद्री संगठन का गठन 1973 में तेल द्वारा जहाजों से होने वाले प्रदूषण के मुद्दों को संबोधित करने के लिए किया गया था।

45. करेंट अफेयर्स – 8 जून, 2022 [मुख्य समाचार]

प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण 8 जून, 2022 के मुख्य समाचार निम्नलिखित हैं:

राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • सरकार ने CDS (चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ) की नियुक्ति के लिए पात्रता बढ़ाई; पद के लिए सेवारत या सेवानिवृत्त थ्री-स्टार आर्मी लेफ्टिनेंट जनरल, एयर मार्शल और वाइस एडमिरल शामिल हैं
  • भारत-बांग्लादेश संयुक्त सैन्य अभ्यास संप्रति बांग्लादेश के जेशोर में 5 से 16 जून तक आयोजित किया जा रहा है
  • केंद्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों और राष्ट्रीय महत्व के संस्थानों के निदेशकों का सम्मेलन 7-8 जून को राष्ट्रपति भवन में आयोजित किया जा रहा है
  • गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में भारतीय लोक प्रशासन संस्थान परिसर में नवनिर्मित राष्ट्रीय जनजातीय अनुसंधान संस्थान का उद्घाटन किया
  • स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने आयुर्वेद आहार के लिए लोगो लॉन्च किया
  • स्वास्थ्य मंत्री डॉ .मनसुख मंडाविया ने भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (FSSAI) का चौथा राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक (SFSI) जारी किया

आर्थिक करेंट अफेयर्स

  • विश्व बैंक ने वित्त वर्ष 2023 के लिए भारत के आर्थिक विकास के अनुमान को घटाकर 7.5% कर दिया
  • आलोक कुमार चौधरी दो साल की अवधि के लिए SBI के एमडी नियुक्त किये गये

अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

  • 6 जून को ढाका में बिम्सटेक (बहु-क्षेत्रीय तकनीकी और आर्थिक सहयोग के लिए बंगाल की खाड़ी पहल) का 25 वां स्थापना दिवस मनाया गया
  • विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस 7 जून को मनाया गया

खेल-कूद करेंट अफेयर्स

  • कुश्ती: भारत कजाकिस्तान के अल्माटी में बोलत तुर्लीखानोव कप से 12 पदक के साथ दूसरा स्थान हासिल किया
  • केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पहली बार राष्ट्रीय वायु खेल नीति 2022 की घोषणा की

46. जन समर्थ पोर्टल (Jan Samarth Portal) लांच किया गया

6 जून, 2022 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने “जन समर्थ पोर्टल” नामक “क्रेडिट-लिंक्ड सरकारी योजनाओं के लिए राष्ट्रीय पोर्टल” लॉन्च किया।

मुख्य बिंदु 

  • यह पोर्टल नई दिल्ली में विज्ञान भवन में वित्त मंत्रालय और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के ‘प्रतिष्ठित सप्ताह समारोह’ के दौरान लॉन्च किया गया था।
  • 6 जून से 11 जून तक चलने वाला यह सप्ताह ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के हिस्से के रूप में मनाया जा रहा है।

जन समर्थ पोर्टल क्या है?

जन समर्थ पोर्टल एक वन-स्टॉप डिजिटल पोर्टल है, जो सरकारी क्रेडिट योजनाओं को जोड़ता है। यह अपनी तरह का पहला मंच है, जो लाभार्थियों को सीधे ऋणदाताओं से जोड़ता है। यह पोर्टल सरल डिजिटल प्रक्रियाओं के माध्यम से उन्हें सही सरकारी लाभ प्रदान करके कई क्षेत्रों के समावेशी विकास को प्रोत्साहित करने के लिए शुरू किया गया है। यह सभी लिंक्ड योजनाओं का संपूर्ण कवरेज सुनिश्चित करता है।

जन समर्थ पोर्टल एक अनूठा डिजिटल पोर्टल है, जो एक ही मंच पर 13 क्रेडिट लिंक्ड सरकारी योजनाओं को लिंक करेगा।

पोर्टल का महत्व

यह पोर्टल छात्रों, व्यापारियों, किसानों, MSME उद्यमियों के जीवन को बेहतर बनाने के साथ-साथ उनके सपनों को साकार करने में मदद करेगा। यह पोर्टल की एक खुली संरचना है, जो भविष्य में राज्य सरकारों और अन्य संगठनों को अपनी योजनाओं को जोड़ने में मदद करेगी।

डिजिटल प्रदर्शनी

इस अवसर पर, प्रधानमंत्री ने एक डिजिटल प्रदर्शनी का भी उद्घाटन किया। यह प्रदर्शनी पिछले आठ वर्षों में वित्त मंत्रालय के साथ-साथ कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय की यात्रा को दर्शाती है।

नए सिक्के

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 रुपये, 2 रुपये, 5 रुपये, 10 रुपये और 20 रुपये के सिक्कों की विशेष श्रृंखला भी जारी की। सिक्कों की इन विशेष श्रृंखलाओं में आजादी का अमृत महोत्सव के लोगो की थीम है। इन सिक्कों को दृष्टिबाधित व्यक्ति आसानी से पहचान सकते हैं।

47. UIDAI: आधार सेवा के लिए डाकियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) डोर-टू-डोर आधार सेवा शुरू करने जा रहा है। इसके लिए करीब 48 हजार डाकियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

मुख्य बिंदु

  • UIDAI इस सेवा को शुरू कर रहा है क्योंकि सरकार ने आधार को भारतीयों के लिए पहचान की आधारशिला बनाने का फैसला किया है।
  • UIDAI इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के डाकियों को पूरे भारत में घर-घर जाकर मोबाइल नंबर से आधार नंबर लिंक करने, विवरण अपडेट करने के साथ-साथ घर-घर जाकर बच्चों का नामांकन करने का प्रशिक्षण दे रहा है।
  • IPPB डाकियों के अलावा, UIDAI लगभग 13,000 बैंकिंग संवाददाताओं को भी शामिल करना चाहता है जो वर्तमान में इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत कॉमन सर्विस सेंटर के साथ काम कर रहे हैं।

UIDAI विस्तार की योजनाएं

डाकियों को UIDAI की विस्तार योजनाओं के एक भाग के रूप में प्रशिक्षित किया जा रहा है, जिसका उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचना और अधिक से अधिक नागरिकों को नामांकित करना है। प्राधिकरण योजना के दूसरे भाग में सभी 150,000 डाक अधिकारियों को भी शामिल करना चाहता है। 

आधार सेवा केंद्र

UIDAI ने भारत के 755 जिलों में आधार सेवा केंद्र शुरू करने की भी योजना बनाई है, ताकि CSC बैंकिंग संवाददाताओं और डाकियों द्वारा अपडेट और एकत्र किए गए आधार विवरण को तेजी से अपडेट किया जा सके। वर्तमान में 72 शहरों में 88 UIDAI सेवा केंद्र कार्यरत हैं।

आधार

आधार एक 12 अंकों की विशिष्ट पहचान संख्या है, जो UIDAI द्वारा बनाई गई है। यह संख्या भारत के नागरिकों या किसी भी निवासी विदेशी नागरिकों द्वारा स्वेच्छा से प्राप्त की जा सकती है जो नामांकन के लिए आवेदन की तिथि से ठीक पहले बारह महीनों में 182 दिनों से अधिक समय तक यहां रहे हैं।

48. Lifestyle for Environment Movement (LiFE) क्या है?

5 जून, 2022 को “विश्व पर्यावरण दिवस” ​​​​के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वैश्विक पहल “Lifestyle for Environment Movement” लांच किया गया।

मुख्य बिंदु 

इस पहल के शुभारंभ के दौरान, पीएम ने कहा कि, पृथ्वी पर चुनौतियों से सभी भलीभांति परिचित हैं। इस प्रकार, सतत विकास को मजबूत करने के लिए मानव-केंद्रित, सामूहिक प्रयासों और मजबूत कार्रवाई की आवश्यकता है।

लाइफ इनिशिएटिव का विजन

जीवन शैली जीने की दृष्टि से LiFE पहल शुरू की गई थी, जो पृथ्वी ग्रह के अनुरूप है और इसे नुकसान नहीं पहुंचाती है। ऐसी जीवन शैली जीने वाले लोगों को “प्रो-प्लैनेट पीपल” कहा जाता है।

LiFE का विचार कैसे पेश किया गया था?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2021 में ग्लासगो में पार्टियों के 26वें संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (COP-26) के दौरान LiFE के विचार की शुरुआत की थी। LiFE का विचार एक पर्यावरण के प्रति जागरूक जीवन शैली को बढ़ावा देता है।

विश्व पर्यावरण दिवस

विश्व पर्यावरण दिवस हर साल 5 जून को मनाया जाता है। यह पर्यावरण की रक्षा के लिए जागरूकता और कार्रवाई को प्रोत्साहित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र द्वारा मनाया जाता है। यह पहली बार 1973 में मनाया गया था। इस मंच का उपयोग समुद्री प्रदूषण, ग्लोबल वार्मिंग, अधिक जनसंख्या, वन्यजीव अपराध और सतत विकास जैसे पर्यावरणीय मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने के लिए किया जाता है।

49. भारत और बांग्लादेश के बीच सम्प्रीति (Ex SAMPRITI-X) संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू हुआ

भारत और बांग्लादेश के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास, Ex SAMPRITI-X, 5 जून, 2022 से बांग्लादेश के जशोर सैन्य स्टेशन में शुरू किया गया। इसका समापन 16 जून, 2022 को होगा।

Ex SAMPRITI-X

  • Ex SAMPRITI-X दोनों सेनाओं के बीच अंतरसंचालनीयता को मजबूत करने और एक-दूसरे की परिचालन तकनीकों और सामरिक अभ्यासों को समझने के उद्देश्य से आयोजित किया जा रहा है।
  • भारतीय दल का प्रतिनिधित्व डोगरा रेजीमेंट की बटालियन कर रही है।
  •  इस अभ्यास के दौरान, भारत और बांग्लादेश की सेनाएं संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत मानवीय सहायता और आपदा राहत, आतंकवाद का मुकाबला इत्यादि में विशेषज्ञता साझा करेंगी।
  • यह एक महत्वपूर्ण द्विपक्षीय रक्षा सहयोग है, जिसका संचालन दोनों देशों द्वारा बारी-बारी से किया जाता है।

भारत-बांग्लादेश संबंध

भारत और बांग्लादेश के बीच राजनयिक संबंध 1971 में शुरू हुए, जब भारत ने बांग्लादेश की स्वतंत्रता को मान्यता दी। द्विपक्षीय संबंधों को एक विशेष संबंध के रूप में चित्रित किया गया है। हालाँकि, कुछ विवाद अनसुलझे हैं। दोनों देशों ने दशकों पुराने सीमा विवादों को निपटाने के लिए 6 जून, 2015 को भूमि सीमा समझौते पर हस्ताक्षर किए। वे अभी भी सीमा पार नदी के पानी के बंटवारे पर बातचीत कर रहे हैं।

50. हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 8 जून, 2022

1. किस राज्य/केंद्र शासित प्रदेश में ‘राष्ट्रीय जनजातीय अनुसंधान संस्थान’ (National Tribal Research Institute) का उद्घाटन किया गया?

उत्तर – नई दिल्ली

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आजादी का अमृत उत्सव के समारोह के तहत नई दिल्ली में राष्ट्रीय जनजातीय अनुसंधान संस्थान (National Tribal Research Institute) का उद्घाटन किया। राष्ट्रीय जनजातीय अनुसंधान संस्थान (NTRI) जनजातीय समुदायों को आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराएगा। NTRI जनजातियों के सामाजिक-आर्थिक पहलुओं का समर्थन करने वाले कार्यक्रमों और अध्ययनों के लिए जनजातीय मामलों के मंत्रालय और राज्य कल्याण विभागों को नीतिगत इनपुट भी प्रदान करेगा।

2. रक्षा अधिग्रहण परिषद (DAC) ने किस संस्थान द्वारा डोर्नियर विमान और Su-30 MKI एयरो-इंजन के निर्माण को मंजूरी दी?

उत्तर – HAL

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में रक्षा अधिग्रहण परिषद (DAC) ने घरेलू उद्योगों से 76,390 करोड़ रुपये के सैन्य उपकरण और प्लेटफॉर्म की खरीद को मंजूरी दी। DAC ने हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा डोर्नियर विमान और Su-30 MKI एयरो-इंजन के निर्माण को मंजूरी दी। इसने भारतीय नौसेना के लिए लगभग 36,000 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत पर अगली पीढ़ी के कोरवेट को भी मंजूरी दी।

3. ‘अग्नि-4’ क्या है, जिसका हाल ही में भारत द्वारा परीक्षण किया गया?

उत्तर – इंटरमीडिएट रेंज बैलिस्टिक मिसाइल

भारत ने इंटरमीडिएट रेंज की बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-4 का सफल परीक्षण किया। यह परिक्षण ओडिशा के एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से किया गया। अग्नि-4 एक इंटरमीडिएट रेंज की बैलिस्टिक मिसाइल है जिसकी मारक क्षमता लगभग 4,000 किमी है। इसे रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) द्वारा विकसित किया गया था और यह 1,000 किलोग्राम का पेलोड ले जा सकती है।

4. किस देश ने बहुराष्ट्रीय शांति अभ्यास ‘एक्स खान क्वेस्ट 2022’ (Ex Khaan Quest 2022) की मेजबानी की?

उत्तर – मंगोलिया

हाल ही में मंगोलिया में एक बहुराष्ट्रीय शांति अभ्यास-खान क्वेस्ट 2022 (Ex Khaan Quest 2022) शुरू हुआ। भारत सहित 16 देशों के सैन्य दल इस अभ्यास में भाग ले रहे हैं। भारत के रक्षा मंत्रालय के अनुसार, भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व लद्दाख स्काउट्स के एक दल द्वारा किया जाता है।

5. ‘बैखो उत्सव’ (Baikho festival) मुख्यतः किस भारतीय राज्य में मनाया जाता है?

उत्तर – असम

भारत के उत्तर-पूर्वी राज्य असम में लोग ‘बैखो उत्सव’ (Baikho festival) नामक वसंत उत्सव मनाते हैं। यह मुख्य रूप से हर साल जून में असम के लोगों द्वारा मनाया जाता है।